By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

रोजेदारों के रोजे खाली नहीं जाएंगे, अलविदा जुमे के रोज किशनगंज पुलिस अधीक्षक की नई पहल

;

- sponsored -

लॉकडाउन के दौरान लगातार किशनगंज पुलिस द्वारा मानवता की हिफाजत के लिए बेहतरीन कदम उठाए जा रहे है। फिर चाहे बात मदद के लिए राशन बांटने का हो, या फिर पका हुआ भोजन उपलब्ध कराना हो, दूरस्थ ग्रामीण इलाकों के जरूरतमन्दों तक किशनगंज पुलिस यह सेवा लॉकडाउन के शुरुआती समय से ही कर रही है।

-sponsored-

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : लॉकडाउन के दौरान लगातार किशनगंज पुलिस द्वारा मानवता की हिफाजत के लिए बेहतरीन कदम उठाए जा रहे है । फिर चाहे बात मदद के लिए राशन बांटने का हो, या फिर पका हुआ भोजन उपलब्ध कराना हो, दूरस्थ ग्रामीण इलाकों के जरूरतमन्दों तक किशनगंज पुलिस यह सेवा लॉकडाउन के शुरुआती समय से ही कर रही है ।दवाई तथा एम्बुलेंस सेवा देना हो, प्रवासी श्रमवीरों को आर्थिक सहायता देनी हो, किशनगंज के बॉर्डर पर प्रवासियों का इस्तकबाल करना हो या लाचार और जरूरतमन्दों को रोजे खोलने के लिए इफ्तार का सामान मुहैय्या करना हो, किशनगंज पोल्स ने सारे कामों को उम्मीद से ज्यादा कर के एक मिशाल कायम की है ।

किशनगंज पुलिस ने आवाम का दिल जीतने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी है । इसकी बानगी आज फिर देखने को मिली, जब पुलिस अधीक्षक कुमार आशीष को गुप्त सूचना प्राप्त हुई, जिसमें रामपुर, खगड़ा के कुछ रोजेदार परिवारों की मुफलिसी की चर्चा थी । उनके लिए रोजे खोलना मिल का पत्थर बना हुआ था । तुरंत एसपी के निर्देश पर एसडीपीओ जावेद अंसारी, सार्जेंट मेजर सुनील पासवान, सर्किल इंस्पेक्टर इरशाद आलम तथा थानाध्यक्ष श्याम किशोर की टीम ने स्थानीय रामपुर खगड़ा के पास रेलवे गुमटी की झुग्गी बस्तियों में अत्यंत जरूरतमन्द करीब 60-70 व्यक्तियों को इफ्तार की सामग्री एवं दैनिक उपभोग का सामान भी भेंट किया ।

इफ्तार के लिए खजूर, फल, मेवे, नमकीन के साथ रूह आफजा शर्बत भी था वहीं उनके रोजमर्रा के उपयोग लिए आटा, चावल, दाल,प्याज, सोयाबीन,चुरा इत्यादि का राशन पैकेट भी दिया गया । इसमें कोई शक-शुब्बा नहीं है कि इस कोरोना संकट में, किशनगंज पुलिस के सामाजिक कार्यों की गूंज देश-विदेश में भी सुनाई दे रही है । अभी पिछले ही हफ्ते मुम्बई के अखबारों में भी एसपी किशनगंज कुमार आशीष एवं उनकी टीम के मानवतावादी कार्यों की विस्तृत चर्चा छपी थी ।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

पिछले 2 महीने के लॉकडाउन की विकट परिस्थितियों में लगातार सेवा एवं सामाजिक कार्यों से किशनगंज पुलिस ने यकीनन नई ऊंचाइयों को छुआ है । पुलिसिंग का चेहरा बदला है और पुलिस में आम लोगों का भरोसा भी बढ़ा है ।वाकई कोरोना संकट ने पुलिस और आमलोगों के बीच की असहजता और भ्रम की स्थिति खत्म करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है ।किशनगंज पुलिस टीम के कप्तान कुमार आशीष,एक नायक और रियल हीरो के रूप में उभरे हैं ।

सिटी पोस्ट के मैनेजिंग एडिटर मुकेश कुमार सिंह

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.