By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बारिश के बाद भी नहीं खत्म हुआ चमकी का असर, जारी  है मासूमों के मरने का सिलसिला, गया में 6 की मौत

;

- sponsored -

चमकी बुखार की जो वजह बतायी जाती है उसमें सबसे अहम वजह यह बतायी जाती है कि भीषण गर्मी की वजह से यह बुखार मासूमों बच्चों को अपनी चपेट में ले लेता है। मुजफ्फरपुर और इसके आसपास के इलाके में दो सौ से ज्यादा बच्चों की मौत बीमारी की वजह से हुई है।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

बारिश के बाद भी नहीं खत्म हुआ चमकी का असर, जारी  है मासूमों के मरने का सिलसिला, गया में 6 की मौत

सिटी पोस्ट लाइवः चमकी बुखार की जो वजह बतायी जाती है उसमें सबसे अहम वजह यह बतायी जाती है कि भीषण गर्मी की वजह से यह बुखार मासूमों बच्चों को अपनी चपेट में ले लेता है। मुजफ्फरपुर और इसके आसपास के इलाके में दो सौ से ज्यादा बच्चों की मौत बीमारी की वजह से हुई है। बारिश के बाद जब तापमान गिरा है और मौसम में ठंडक है बावजूद इसके चमकी का असर खत्म नहीं हुआ है और मासूमों के मरने का सिलसिला जारी है।

गया में 6 बच्चों की मौत चमकी बुखार से हो गयी है। गया के मगध मेडिकल काॅलेज अस्पताल में अब तक चमकी बुखार से पीड़ित 22 बच्चे भर्ती हुए हैं, जिनमें से 6 बच्चों की मौत हो चुकी है. इनमें से 14 बच्चों में एईएस से संबंधित लक्षण पाए गए हैं. इस मामले में अस्पताल अधीक्षक वीके प्रसाद ने बताया कि अभी तक कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है. विस्तृत रिपोर्ट आने के बाद इसके बारे में कुछ कहा जा सकता है. उन्होंने कहा कि सभी बच्चों की रिपोर्ट पटना भेजा गया है. रिपोर्ट आने के बाद ही बच्चों के मरने का कारण स्पष्ट हो पाएगा.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.