By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

सीएसआर के तहत विभिन्न परियोजनाओं की समीक्षा, दिये कई दिशा-निर्देश

;

- sponsored -

रांची के उपायुक्त छवि रंजन ने गुरुवार को सीएसआर फंड की समीक्षा बैठक की। बैठक में उपायुक्त छवि रंजन ने सीएसआर फंड के उपयोग से विभिन्न विकास कार्यों के लिए के लिए तैयार की गयी योजना पर विस्तार से चर्चा करते हुए अब तक की कार्य प्रगति की जानकारी ली।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: रांची के उपायुक्त छवि रंजन ने गुरुवार को सीएसआर फंड की समीक्षा बैठक की। बैठक में उपायुक्त छवि रंजन ने सीएसआर फंड के उपयोग से विभिन्न विकास कार्यों के लिए के लिए तैयार की गयी योजना पर विस्तार से चर्चा करते हुए अब तक की कार्य प्रगति की जानकारी ली। सीएसआर परियोजनाओं जैसे एएनसी किट, एम्बुलेंस, स्वास्थ्य, शिक्षा, सामाजिक कल्याण आदि की बारी बारी से जानकारी लेते हुए उन्होंने पूरी की जा चुकी परियोजनाओं की उपयोगिता प्रमाण लेने का निदेश दिया।
प्रस्ताव तैयार करें: डीसी
Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

जिले में सीएसआर फंड के उपयोग से किये जानेवाले विकास कार्याें के लिए उपायुक्त ने प्रस्ताव तैयार करने का निदेश दिया। उन्होंने कहा कि अनुमानित राशि के आधार पर प्रस्ताव तैयार करें । ताकि एजेंसियों से समन्वय स्थापित करने में आसानी हो। उपायुक्त ने माइक्रो और ड्रिप एरिगेशन, पाॅली हाउस, कोल्ड स्टोरोज के साथ कृषि से संबंधित प्रस्ताव भी तैयार करने को कहा।
प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को सशक्त बनाने पर जोर
बैठक में उपायुक्त ने जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को सशक्त बनाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि जिले के ऐसे प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों की सूची बनायें ।जहां सीएसआर फंड के उपयोग से संस्थागत प्रसव की सुविधा उपलब्ध करायी जा सके। साथ ही उन्होंने पीएचसी में अन्य सुविधा उपलब्ध कराने को लेकर भी एमओआईसी से समन्वय स्थापित करने का निदेश दिया।
 कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालयों का होगा सर्वे
 बैठक में उपायुक्त ने रांची जिले में संचालित कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालयों का सर्वे कराने का निदेश दिया। उन्होंने कहा कि कस्तूरबा विद्यालयों में जरुरी सुविधाओं की जानकारी एकत्र कर प्रस्ताव बनाकर कार्य करें। ताकि विद्यालयों को और आकर्षक बनाया जा सके। साथ ही उन्होंने अपने भवन में चल रहे कल्याण विभाग के बोर्डिंग स्कूल में क्या जरुरत है ।इसके लिए निदेशक आइटीडीए से पत्राचार करने का भी निदेश संबंधित पदाधिकारी को दिया। आंगनबाड़ी केन्द्रों को माॅडल आंगनबाड़ी केन्द्रों में विकसित किये जाने की परियोजना की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने बिजली, पानी की व्यवस्था एवं अन्य सुविधाओं उपलब्ध कराने का निदेश दिया। उपायुक्त ने कहा कि सीएसआर फंड के तहत जो भी प्रोजेक्ट पूरे हो गये हैं उनकी डाॅक्यूमेंटेशन करायें।रांची समाहरणालय स्थित उपायुक्त कार्यालय में आयोजित बैठक में उपविकास आयुक्त अनन्य मित्तल, निदेशक डीआरडीए, स्वास्थ्य भारत प्रेरक एवं एसपिरेशनल डिस्ट्रिक फेलो उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि सीएसआर के अंतर्गत प्राप्त फंड का रांची जिला में पेयजल आपूर्ति, स्वास्थ्य सेवा, शिक्षा, महिला एवं बाल विकास, वृद्ध एवं दिव्यांगजनों को सुविधाएं, स्किल डेवलपमेंट, सैनिटेशन, इंफ्रास्ट्रक्चर, सिंचाई सहित ऊर्जा एवं वाटरशेड मैनेजमेंट के क्षेत्र में कार्य किया जा रहा है।
;

-sponsored-

Comments are closed.