By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

मध्यस्थता से हो सकता है मुकदमों का निपटाराः जिला न्यायाधीश

- sponsored -

मध्यस्थता के द्वारा बड़े-बड़े मुकदमों का निपटारा हो सकता है । इस पूरी कार्यवाही में न कोई हारता है और न ही कोई जीतता है। जज को भी ज्यादातर मामलों के समाधान के लिए विवादों को मध्यस्थता केंद्र भेजना चाहिए।

-sponsored-

मध्यस्थता से हो सकता है मुकदमों का निपटाराः जिला न्यायाधीश
सिटी पोस्ट लाइव, धनबाद: मध्यस्थता के द्वारा बड़े-बड़े मुकदमों का निपटारा हो सकता है । इस पूरी कार्यवाही में न कोई हारता है और न ही कोई जीतता है। जज को भी ज्यादातर मामलों के समाधान के लिए विवादों को मध्यस्थता केंद्र भेजना चाहिए। ये बातें रविवार को आयोजित रेफरल मध्यस्थता जागरूकता कार्यक्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकार के चेयरमैन जिला के प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश बसंत कुमार गोस्वामी ने कहीं। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधान जिला जज गोस्वामी ने कहा कि आज समय की आवश्यकता है कि ज्यादा से ज्यादा विवादों का त्वरित निष्पादन हो, जिसमें एडीआर सिस्टम बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। उन्होंने रामायण और महाभारत के प्रसंग का उदाहरण देते हुए कहा कि बाली और सुग्रीव के बीच मध्यस्थता करने के लिए अंगद को भेजा गया था। महाभारत में भी भगवान कृष्ण ने मध्यस्थता का काम किया था। उन्होंने कहा कि अप्रैल 2018 से मार्च 2019 तक जिले की सभी अदालतों ने 1987 मुकदमों को मध्यस्थता के लिए भेजा। इसमें 904 मामलों का निष्पादन किया गया। उन्होंने कहा कि मध्यस्थता से 54 प्रतिशत मुकदमों के निपटारे की सफलता रेट काफी संतोषजनक है। इससे समाज में समरसता आएगी। मध्यस्थता समाज में प्रेम पुष्प खिलाने का काम करेगी। इस मौके पर डालसा के सचिव सह अवर न्यायाधीश अविनाश कुमार दुबे ने कहा कि झालसा के निर्देश पर एक दिवसीय मध्यस्थता शिविर का आयोजन किया गया था। जिसमें मध्यस्थता के संबंध में जानकारी दी गई।इससे पहले कार्यक्रम का उद्घाटन द्वीप प्रज्वालित कर किया गया। मंच संचालन जिला एवं सत्र न्यायाधीश रवि रंजन ने किया। कार्यक्रम को जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुरेंद्र शर्मा, रिजवान अहमद, आलोक कुमार दुबे, संजय कुमार, अरविंद कुमार पांडेय, मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी राजीव रंजन, मुख्य न्यायाधीश मनोज कुमार त्रिपाठी, राजेश कुमार सिंह, अखिलेश तिवारी, कुटुंब न्यायालय की न्यायाधीश रंजना अस्थाना, बार एसोसिएशन के अध्यक्ष राधेश्याम गोस्वामी, प्रथम श्रेणी के न्यायिक दंडाधिकारी अर्पित श्रीवास्तव, तविंदा खान, मोमिता गोइन, रवि नारायण, खुशबू त्यागी, रितु कुजूर, संगीता बिना कुमारी, गौरव खुराना, शिखा अग्रवाल समेत धनबाद बार एसोसिएशन अध्यक्ष राधेश्याम गोस्वामी, डालसा के अधिवक्ता जिला के मीडिएटर उपस्थित थे।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.