By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

सरकार की सद्बुद्धि के लिए हड़ताली शिक्षकों ने हवन के बाद निकाली कांवर यात्रा

- sponsored -

बिहार में 17 फरवरी से तकरीबन 4 लाख नियोजित शिक्षक हड़ताल पर हैं। हड़ताल को लेकर जहाँ एक ओर विभाग शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई पर आमदा है वहीं शिक्षक समान काम समान वेतन की अपनी मांग के समर्थन में अलग- अलग तरीके से विरोध प्रदर्शन में लगे हैं।

Below Featured Image

-sponsored-

सरकार की सद्बुद्धि के लिए हड़ताली शिक्षकों ने हवन के बाद निकाली कांवर यात्रा

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार में 17 फरवरी से तकरीबन 4 लाख नियोजित शिक्षक हड़ताल पर हैं। हड़ताल को लेकर जहाँ एक ओर विभाग शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई पर आमदा है वहीं शिक्षक समान काम समान वेतन की अपनी मांग के समर्थन में अलग- अलग तरीके से विरोध प्रदर्शन में लगे हैं। बेगूसराय में महाशिवरात्रि के मौके पर हड़ताली शिक्षकों ने मनोकामना कांवर यात्रा निकाल भगवान भोलेनाथ से सरकार को सद्बुद्धि देने और उनकी मांग पूरी करने की प्रार्थना की है। शिक्षकों ने मटिहानी प्रखंड के सिंहमा गंगा घाट से गंगाजल कांवर में लेकर 8 किलोमीटर की पैदल यात्रा कर शहर के प्रसिद्ध कर्पूरी स्थान मन्दिर में भगवान शिव का जलाभिषेक किया।

इस दौरान शिक्षक कांवरियों की वेशभूषा में भगवान शिव का जयघोष करते दिखे। सरकार की सद्बुद्धि के लिए पहले हवन और बाद में कांवर यात्रा जैसे प्रदर्शन से शिक्षकों का आंदोलन नया रूप लेता जा रहा है। गौरतलब है कि इसके पहले भी शिक्षकों ने हवन कर सरकार और अधिकारियों की सदबुद्धि की कामना की थी । इस बात से नाराज अधिकारियों ने 6 शिक्षकों के खिलाफ निलंबन की कारवाई शुरू कर दी है। मनोकामना कांवर यात्रा को लेकर टीईटी-एसटीईटी उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ के प्रदेश मीडिया प्रभारी राहुल विकास ने कहा कि समान काम का समान वेतन उनका संवैधानिक अधिकार है और अपनी इस माँग को लेकर अब शिक्षक भगवान भोलेनाथ से अधिकारियों को सद्बुद्धि देने और उनकी मांग को पूरा करने की मांग कर रहे हैं।

Also Read

-sponsored-

बेगूसराय  से सुमित कुमार की रिपोर्ट

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.