By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

गर्भवती बनाकर भागने वाले पति के घर पहुंची पत्नी, ससुराल वालों ने ठुकराया तो न्याय को थाने पहुंची पीड़िता

HTML Code here
;

- sponsored -

हिमाचल प्रदेश से कमरूद्यीनपुर गांव से आयी पत्नी को पति ने घर से बाहर निकाला. हिमाचल प्रदेश में मजदूरी करने के दौरान तीन बच्चों की मां तारा देवी को ललन कुमार से आंखे चार हुई. प्यार परवान चढ़ने लगा तो शादी के बंधन में बंध गये. देखते-ही-देखते ही वह गर्भवती बनी.

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव: हिमाचल प्रदेश से कमरूद्यीनपुर गांव से आयी पत्नी को पति ने घर से बाहर निकाला. हिमाचल प्रदेश में मजदूरी करने के दौरान तीन बच्चों की मां तारा देवी को ललन कुमार से आंखे चार हुई. प्यार परवान चढ़ने लगा तो शादी के बंधन में बंध गये. देखते-ही-देखते ही वह गर्भवती बनी. खुशहाल जीवन चल रहा था. एक दिन काम का बहाना बनाकर वह हिमाचल से बेगूसराय भाग गया. उसके बाद उसे खोजते-खोजते आखिरकार सिंघोल ओपी क्षेत्र के कमरूद्यीनपुर गांव पहुंची.

उसके घर पर जाने के बाद लड़के ने कहा कि उसकी शादी दुसरे जगह लग गयी है. परिवार वालों ने 50 हजार रुपये की मांग कर दी. जब वह अपने माता-पिता के गरीब होने की बात बतायी तो उसे उसके बच्चों के साथ घर से बाहर निकाल दिया. उसका पति अब दूसरी शादी करना चाहता है. यह आपबीती सिंघौल के कमरूद्यीनपुर निवासी ललन कुमार की पत्नी तारा देवी ने बताया कि मेरे पति की 30 तारीख को शादी है. दहेज में एक मोटरसाइकिल, 70 हजार रुपए तथा एक भरी सोना दे रहा है.

अब पीड़िता महिला न्याय के लिए महिला थाने में आवेदन देकर पति के साथ रहने की गुहार लगा रही है. पीड़िता ने महिला थानाध्यक्ष को बताया कि उसकी खगड़िया में पहली शादी हुई थी. पहले पति से तीन बच्चे हैं. पहले पति छः साल पहले छोड़ दिया था तो वह काम करने के लिए हिमाचल प्रदेश चल गयी. वहीं पर ललन कुमार की आंखें दो चार हुआ और दोनों की मुलाकात तेज हुई. तारा ने कहा कि ललन ने प्रलोभन देकर मुझसे शादी कर ली. काम के बहाने व मुझे छोड़कर वह भाग गया.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

महिला थानाध्यक्ष आवन्ती कुमारी ने बताया कि लड़का ललन कुमार को बुलाया गया और इस मामले के बारे में पुछा जिसके बाद उसने यह सब कुबूल किया. ललन ने कुबूल किया कि तारा के साथ उसने तीन साल रिश्ता निभा कर छोड़ दिया था. फिलहाल, ललन पुलिस कस्टडी में है. मामले की जांच की जा रही है. लड़का ने तारा को अपनी पत्नी मानकर महिला थाना अध्यक्ष को बताया कि जो गलती हुई थी हमें माफ़ कर दें. महिला थाना अध्यक्ष आवंती कुमारी ने बताया कि लड़के के परिजन को बुलाकर बांड भरवा कर विधिवत परिजन को इस लड़की को सौंप दिया गया है.

                                                                                                                                    बेगूसराय से जीवेश तरुण की रिपोर्ट   

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.