By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

खेल पर पड़े कोरोना महामारी के प्रभाव पर बात करेंगे दिग्गज, खेल विशेषज्ञ भी होंगे चर्चा में शामिल

रविवार को 12 से 1 बजे के बीच डिजिटल प्लेटफॉर्म पर आयोजित होगी चर्चा

HTML Code here
;

- sponsored -

एडवांटेज केयर डायलॉग सीरीज के पांचवें एपिसोड में खेल पर कोरोना महामारी के असर पर चर्चा होगी। इस चर्चा में खेल जगत में देश और दुनिया के ख्याति प्राप्त लोग शामिल होंगे। चर्चा 12 से एक बजे के बीच डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रविवार 13 जून को आयोजित किया जाएगा। चर्चा का विषय है, ‘खेलों पर कोविड का प्रभाव‘।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : एडवांटेज केयर डायलॉग सीरीज के पांचवें एपिसोड में खेल पर कोरोना महामारी के असर पर चर्चा होगी। इस चर्चा में खेल जगत में देश और दुनिया के ख्याति प्राप्त लोग शामिल होंगे। चर्चा 12 से एक बजे के बीच डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रविवार 13 जून को आयोजित किया जाएगा। चर्चा का विषय है, ‘खेलों पर कोविड का प्रभाव‘।एडवांटेज केयर के संस्थापक खुर्शीद अहमद ने बताया कि चर्चा में दिग्गज पूर्व क्रिकेट ऑलराउंडर व कमेंटेटर इरफान पठान, पूर्व क्रिकेटर और बीसीसीआई के पूर्व जीएम सबा करीम तथा अभी देश के क्रिकेट जगत में सितारा बनकर ऊभर रहे क्रिकेटर ईशान किशन शामिल होंगे। इसके अलावा भारतीय बॉस्केटबॉल टीम की कप्तान आकांक्षा सिंह भी चर्चा भी शामिल होंगी।

गो स्पोट्र्स फाउंडेशन की कार्यकारी निदेशक दीप्ति बोपायह भी इस चर्चा भी भाग लेंगी और खेलों पर कोविड महामारी के असर पर अपनी बात रखेंगी। कार्यक्रम के मॉडरेटर एलएक्सएल आइडियाज के एमडी और चीफ लर्नर सैयद सुल्तान अहमद होंगे। श्री सैयद ही कार्यक्रम की रूपरेखा भी तय किए हैं। कार्यक्रम को जूम और यूट्यूब https://youtu.be/-Ru_sEbULm4 पर लाइव देखा जा सकता है। खुर्शीद अहमद के अनुसार कोई भी व्यक्ति देश और दुनिया के किसी भी कोने से निर्धारित समय पर निःशुल्क इस चर्चा को देख सकता है। वो विशेषज्ञों से सवाल भी पूछ सकते हैं।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

खेल जगत को लगभग 756 अरब डॉलर का नुकसान

एक अनुमान के मुताबिक कोरोना महामारी फूटने के बाद अबतक दुनिया के खेल जगत को 756 अरब डॉलर का नुकसान हो चुका है। क्रिकेट की बात करें तो वेस्टींडीज, बांग्लादेश, श्रीलंका जैसे छोटे क्रिकेट बोर्ड बिल्कुल बर्बादी के कगार पर पहुंच चुके हैं। बीसीसीआई या क्रिकेट आस्ट्रेलिया जैसे देशों को भी घाटा सहना पड़ रहा है। आईपीएल को बीच में रोकना पड़ा। अब यह यूएई में होगा। यदि मैच देश के स्टेडियम में होता तो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से हजारों लोगों को रोजगार मिलता। इसी तरह ओलंपिक नहीं हो सका। इसकी वजह से भी अरबों रुपए का नुकसान हुआ। लाखों-हजारों लोगों को जॉब का भी नुकसान हुआ। खुर्शीद अहमद का कहना है कि खेल और संगीत जिंदगी में अहम भूमिका अदा करते हैं। ऐसे में खेल का आयोजन नहीं होना काफी मुश्किल खड़ी करता है। खेल से सिर्फ आर्थिक फायदा ही नहीं होता बल्कि दर्शक कुछ घंटों के लिए अपनी सारी मानसिक परेशानियों को भूला देते हैं। इससे उनका जीवन स्तर सुधरता है। इन्हीं सब बातों को ख्याल में रखते हुए हमने ‘कोविड और खेल‘ के ईद-गिर्द अपना डायलॉग का विषय रखा है। इस चर्चा करना जरूरी हो गया है।

विभिन्न न्यूज पोर्टल पर भी होगा प्रसारित

इस चर्चा का प्रसारण जूम और यूट्यूब के अलावा कुछ प्रमुख न्यूज पोर्टल पर होगा, जिसमें लाइव सिटीज, फस्र्ट बिहार-झारखंड, सिटी पोस्ट लाइव और नौकरशाही डॉट काम शामिल है। दर्शक इन पोर्टल पर जाकर भी चर्चा में भाग ले रहे विशेषज्ञों की बातों को सुन और देख सकते हैं।

EEMA द्वारा समर्थित

यह चर्चा इवेंट्स एंड इंटरटेनमेंट मैनेजमेंट एसोसिएशन (EEMA।) द्वारा समर्थित है। इस एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष लेखक और निर्देशक रोशन अब्बास हैं। ईईएमए पंजीकृत कंपनियों, संस्थानों और पेशेवरों का एक स्वायत्त, गैर-लाभकारी निकाय है जो भारत के आयोजनों और अनुभवात्मक मार्केटिंग उद्योग के भीतर काम करता है।

पिछले रविवार को आयोजित कार्यक्रम काफी सफल हुआ था

अहमद ने बताया कि पिछले रविवार को भी इस तरह की चर्चा हुई थी, जो काफी सफल रहा। लोगों ने काफी सराहा। कार्यक्रम दो सत्रों में आयोजित किया गया था। जिसमें देश के नामचीन लोग हिस्सा लिए थे। 23 हजार लोग कार्यक्रम से सीधे जुड़े जबकि प्रिंट, इलेट्रॉनिक और सोशल मीडिया के माध्यम से 60 लाख लोेगों ने कार्यक्रम में हुई चर्चा के बारे में पढ़ा और जाना।

इसी वर्ष एडवांटेज केयर की स्थापना हुई है

एडवांटेज केयर की स्थापना एडवांटेज सपोर्ट के अंतर्गत स्वास्थ्य संबंधी वर्तमान समस्या को देखते हुए इसी वर्ष किया गया है। एडवांटेज ग्रुप ने सीएसआर (कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व) के लिए एडवांटेज सपोर्ट की स्थापना वर्ष 2007 में की थी। प्रसिद्ध सर्जन डॉ. ए.ए. हई एडवांटेज सपोर्ट के अध्यक्ष हैं। खुर्शीद अहमद एडवांटेज सपोर्ट के सचिव हैं। वहीं ट्रस्टी के रूप में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर सैयद सबा करीम, भारती भवन के प्रकाशक एवं वितरक संजीब बोस, शिक्षाविद प्रो. सैयद नफीस हैदर, वरिष्ठ पत्रकार संजय सलील, डॉ. रंजना कुमारी, चेयरपर्सन ऑफ वोमेन पावर कनेक्ट, शिक्षाविद सैयद सुल्तान अहमद, फैजान अहमद, डॉ. परवेज अख्तर, रिटायर्ड डीआईजी, ओवियन चेलवेन, राजीव रंजन और चंद्रमणि सिंह शामिल हैं।

एडवांटेज ग्रुप 29 साल पुरानी कंपनी है, जो पीआर, विज्ञापन, पब्लिक अफेयर, इवेंट्स, एक्टिवेशन आदि क्षेत्र में सक्रिय है। कोविड महामारी में एडवांटेज केयर ने काफी काम किया। कई लोगों को अस्पताल में बेड दिलवाने में मदद की, ऑक्सीजन की व्यवस्था की। दो एंबुलेंस भी मुफ्त में शहरवासियों को उपलब्ध कराया है, अबतक 20 लोगों ने इस सेवा का लाभ उठाया है। यही नहीं, एडवांटेज केयर अस्पताल में भर्ती मरीज के 6000 परिजनों एवं जरूरतमंदों को खाना खिला चुके हैं। एडवांटेज केयर लोगों को कोरोना टीकाकरण के लिए जागरूक बना रही है और अबतक 100 लोगों का टीकाकरण करवा चुकी है।

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.