By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

कोरोना के संदिग्ध मरीज की दी सूचना देने पर युवक की पीट-पीटकर हत्या.

;

- sponsored -

-sponsored-

-sponsored-

कोरोना के संदिग्ध मरीज की दी सूचना देने पर युवक की पीट-पीटकर हत्या.

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के सीतामढ़ी जिले से कोरोना से जुडी एक बड़ी खबर सामने आई है.खबर के अनुसार जिले में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संदिग्ध की जानकारी देने पर एक युवक की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई है. जिले के रुन्नीसैदपुर थाना के मधौल गांव में प्रशासन को सूचना देने के कारण एक युवक की पीट- पीटकर हत्या कर दी गई. बताया जाता है कि हत्यारे युवक से सिर्फ इसलिए खफा थे कि उसने कोरोना वायरस से संक्रमित होने की सूचना मेडिकल हेल्पलाइन नंबर पर दे दी थी.

मृतक युवक ने महाराष्ट्र से लौटे दो लोगों के कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज होने की सूचना दी थी. जिसके बाद मेडिकल टीम गांव में पहुंचकर दोनों युवक को जांच के लिए ले गई.लेकिन कोरोना वायरस की पुष्टि नहीं होने पर दोनोंं को रिहा कर दिया गया.घर पहुंचते ही दोनों युवकों ने अपने परिवार के सदस्यों के साथ मिलकर सूचना देने वाले युवक को पीट-पीटकर गंभीर रुप से जख्मी कर दिया.रुन्नीसैदपुर पीएचसी के डॉक्टरों ने गंभीररूप से घायल युवक को बेहतर इलाज के लिए मुजफ्फरपुर रेफर कर दिया. मुजफ्फरपुर एसकेएमसीएच में ले जाने के दौरान उसकी मौत हो गई.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

इस हत्या के मामले में मृतक  बबलू कुमार के परिजनों के बयान पर मुजफ्फरपुर के अहियापुर थाने में पुलिस ने बयान दर्ज किया गया है.पोस्टमार्टम के बाद शव को उसके परिजनों के हवाले कर दिया गया है. मृतक के भाई गुड्डू के बयान पर पुलिस ने गांव के ठगा महतो, सुधीर कुमार, विकास महतो, मदन महतो, दीपक कुमार और मुन्ना महतो को अभियुक्त बनाया है. पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए दो आरोपियों सुधीर महतो और मुन्ना महतो को गिरफ्तार कर लिया है.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.