By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

कोरोना संक्रमित मरीज खुद लगा रहा था ऑक्सीजन सिलिंडर, नॉजल फटने से हुई मौत

;

- sponsored -

झारखंड के धनबाद स्थित कोविड़ अस्पताल (सेंट्रल अस्पताल ) में भर्ती कोरोना संक्रमित 55 वर्षीय मरीज की मौत ऑक्सीजन सिलिंडर का नॉजल भटने से हो गई।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव, धनबाद: झारखंड के धनबाद स्थित कोविड़ अस्पताल (सेंट्रल अस्पताल ) में भर्ती कोरोना संक्रमित 55 वर्षीय मरीज की मौत ऑक्सीजन सिलिंडर का नॉजल भटने से हो गई। घटना देर शाम करीब छह बजे की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कोविड-19 अस्पताल में भर्ती कोरोना पॉजिटिव मरीज को शाम में अचानक से घबराहट महसूस हुई। सांस लेने में हो रही परेशानी को देख मरीज ने खुद से ही ऑक्सीजन मास्क पहनने की कोशिश की। इसी दरम्यान सिलिंडर का नॉजल ब्लास्ट हो गया। इस तेज धमाके के बीच मरीज की ह्ृदयगति रुकने से तत्काल मौत हो गई। मरीज की इस मौत ने कोविड़ अस्पताल (सेंट्रल अस्पताल ) में स्वास्थ्य व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी है। बड़ा सवाल है कि आखिर एक मरीज को स्वंय ऑक्सीजन मास्क पहनने की नौबत क्यो आई। इसकी वजह स्पष्ट है। यह घटना यह बताती है कि चिकित्सा कर्मियों की भारी कमी है तथा इलाज में महज खानापूर्ति की जा रही है। फिलवक्त अधिकारी इस मामले में चुप है। अबतक घटना की आधिकारिक तौर से पुष्टि नही की है।

कोविड-19अस्पताल में भर्त्ती एक अन्य मरीज ने बताया कि कोरोना संक्रमित मरीजों को अस्पताल में भर्ती जरूर कर लिया गया है, लेकिन यहां कोई सुविधा नहीं है, सभी काम संक्रमित मरीजों को ही करना पड़ रहा है। यह भी जानकारी मिली है कि मौत के बावजूद कोरोना संक्रमित मरीज का शव वहीं पर बेड पर पड़ा रहा, लेकिन अस्पताल प्रबंधन द्वारा काफी संज्ञान नहीं लिया गया, परंतु जब स्थानीय लोगों ने हंगामा किया, तो शव को हटाकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। इधर, जिला प्रशासन ने ऑक्सीजन सिलेंडर ब्लॉस्ट कर खबर को गलत और भ्रामक बताया है। जिले के उपायुक्त उमाशंकर सिंह ने बताया कि कोविड-19 अस्पताल में पॉजिटिव मरीज की मृत्यु उनकी तबीयत अत्यधिक खराब होने के कारण हुई है।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.