By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बिहार में कोरोना संक्रमण के जांच में हो रही है कोताही : मंजुबला

HTML Code here
;

- sponsored -

पटना के खाजपुरा की रहने वाली महिला जिसका कोराना जांच में पटना एम्स ने पॉजिटिव बताया था उस रिपोर्ट को क्रॉस चेक करने के बाद एनएमसीएच द्वारा जांच रिपोर्ट निगेटिव बताया गया। क्या बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था सचमुच भगवान भरोसे है। खुद सूबे के मुख्यमंत्री के गृह जिला नालंदा की स्थिति हास्यास्पद है।

-sponsored-

बिहार में कोरोना संक्रमण के जांच में हो रही है कोताही : मंजुबला

सिटी पोस्ट लाइव : पटना के खाजपुरा की रहने वाली महिला जिसका कोराना जांच में पटना एम्स ने पॉजिटिव बताया था उस रिपोर्ट को क्रॉस चेक करने के बाद एनएमसीएच द्वारा जांच रिपोर्ट निगेटिव बताया गया। क्या बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था सचमुच भगवान भरोसे है। खुद सूबे के मुख्यमंत्री के गृह जिला नालंदा की स्थिति हास्यास्पद है। नितीश कुमार जी कई दफा नालंदा का प्रतिनिधित्व भी कर चुके है। जब नालंदा ऑर सूबे के राजधानी पटना में संक्रमण का सही जांच नहीं होता तो बाकी जिलों में क्या होगा । किस नगर में कितने संक्रमित हुए, कितने मरे ऑर कितने बचे ये सब आंकड़े हम बिहारियों के जीवन से अब जुड़ गया। स्वास्थ्य सेवा में लगे डॉक्टर ऑर नर्सो पे हमले हो रहे है। बिहार सरकार बैंको में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करवा रही है। जरूरतमंद लोगों तक जरूरी समान नहीं पहुंच रहा हैं।

दूसरी ओर एनडीए के सांसद लॉकडाउन का खुला उलंघन कर रहे हैं । एक तरफ छात्रों को बिहार लाने में सरकार मना कर रहीं है दुसरी तरफ इसी एनडीए सरकार के सांसद क्रमशः संतोष कुशवाहा ऑर प्रदीप सिंह अपनी -अपनी गाड़ी से दिल्ली से अपने- अपने लोकसभा पहुंच गए ऑर लोगों के बीच जाकर सोशल दिस्टेसिंग का खुला उलंघन कर रहें हैं। जनप्रनिधियों के ऐसे कामों से सरकार के साख पर सवाल खड़ा होता है बिहार सरकार के इस अभिजातीएं स्वरूप की वजह से संविधान की प्रस्तावना ‘ वि द पिपुल’ यानी इस महामारी में नागरिकों की रक्षा का स्वप्न पूरा नहीं हो रहा हैं । पहले ही शटडाउन का दर्ड गरीब लोगों की पीड़ा बढ़ा रहा हैै ऑर अब ये भेदभाव उनके मनोभाव की कमजोर कर रहा है । मै मंजुबाला पाठक बिहार महिला कांग्रेस पूर्व उपाध्यक्ष सरकार से निवेदन करती हूं कि बिहार सरकार इस भेदभाव को दुर कर अविलंब स्वास्थ्य व्यवस्था को पारदर्शी बनाते हुए सही जांच की गति बढ़ाए ।

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.