By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

झारखंड में पहली बार सीड टोकन के माध्यम से बीज वितरण में पारदर्शिता लाने की पहल

HTML Code here
;

- sponsored -

झारखण्ड में पहली बार 12 मई से कोरोना संक्रमण के बावजूद खरीफ फसलों के लिए 2021-22 में बीज वितरण का कार्य प्रारम्भ किया गया।

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: झारखण्ड में पहली बार 12 मई से कोरोना संक्रमण के बावजूद खरीफ फसलों के लिए 2021-22 में बीज वितरण का कार्य प्रारम्भ किया गया। ऐसा पहली बार हुआ जब खरीफ फसल 2021 में आज तक के सबसे बड़ी मात्रा में 37 हजार क्विंटल बीज का वितरण किया गया हो। रबी फसलों के लिए 2020-21, 2021-22 में गेहूं, चना एवं मसूर के बीज के लिए भी अक्टूबर माह में ही आदेश निर्गत किया गया। साथ ही, राज्य योजनाओं में आवंटित कुल 1256.44 करोड़ रुपये में से 1092.81 करोड़ रुपये अबतक खर्च किया गया। जो आवंटित राशि का 86.97 प्रतिशत है।

बीज की हुई आपूर्ति

राज्य सरकार ने रबी फसलों के लिए आज तक के सबसे अधिक 45,485 क्विंटल बीज आपूर्ति का आदेश निर्गत किया। जिसमें से 18, 418 क्विंटल का उठाव हो चुका एवं बाकी बीज का वितरण कृषकों के बीच जारी। रबी मौसम में राज में पहली बार इतनी अधिक मात्रा में बीज का उठाव किया गया है। किसान प्राप्त गुणवत्तापूर्ण बीज से अधिक मात्रा में फसल प्राप्त कर आर्थिक मुनाफा की ओर अग्रसर हैं। बीज वितरण में पारदर्शिता लाने हेतु 2021 में पहली बार सीड टोकन के माध्यम से बीज वितरण की शुरुआत की गई है। वहीं राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन योजना अंतर्गत खरीफ 2021 में प्रत्यक्षण हेतु बीज आवंटित की गई। रबि 2021- 22 हेतु सभी हेतु जिलों में बीज आवंटित की गई है।

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.