By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बिहार के सरकारी अस्पतालों में डॉक्टरों की बहाली शुरु, 100 से ज्यादा अभ्यर्थी पहुंचे वॉक इन इंटरव्यू को

HTML Code here
;

- sponsored -

बिहार के अस्पतालों में 1000 डॉक्टरों की बहाली आज से शुरु हो गयी है। फिलहाल पीएमसीएच में 21, और एनएमसीएच में 25 और बाकी सरकारी अस्पतालों में 15-15 डॉक्टरों की बहाली की जाएगी।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के अस्पतालों में 1000 डॉक्टरों की बहाली आज से शुरु हो गयी है। फिलहाल पीएमसीएच में 21, और एनएमसीएच में 25 और बाकी सरकारी अस्पतालों में 15-15 डॉक्टरों की बहाली की जाएगी।

आज सोमवार को पटना के गर्दनीबाग स्थित जिला स्वास्थ्य समिति परिसर में 85 और गया के मगध मेडिकल कॉलेज में 30​​​​​​ अभ्यर्थी वॉक इन इंटरव्यू के लिए पहुंचे। भर्ती के लिए अभ्यर्थियों के पास एबीबीएस की डिग्री जरूरी है। डॉक्टरों को 65 हजार रुपए प्रति महीने वेतन दिए जाएंगे।

मेधा सूची का निर्धारण एमबीबीएस में प्राप्त अंक के आधार पर होगा और विदेश से प्राप्त सभी डिग्री धारकों की एबीबीएस प्राप्तांक की गणना के आधार पर की जाएगी। अभ्यर्थियों को शैक्षणिक योग्यता की प्रति के साथ जिला स्वास्थ्य समिति या फिर मेडिकल कॉलेज और हॉस्पिटल के सुप्रीटेंडेंट के कार्यालय में आना होगा।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

उम्मीदवारों के आधार पर मेधा का निर्धारण कर आरक्षण रोस्टर का पालन करते हुए नियोजन किया जाएगा। वॉक इन इंटरव्यू की तिथि 10 मई, 14 मई, 17 मई, 21 मई व उसके बाद प्रत्येक सोमवार को निर्धारित की गई है।

राज्य सरकार ने एमबीबीएस अंतिम वर्ष के छात्र-छात्राओं की सेवा कोविड मरीजों के इलाज के लिए लेने का फैसला किया है। उनकी सेवा टेली मेडिसिन और माइल्ड कोविड केस मरीजों के इलाज के लिए ली जाएगी। उन्हें 15 हजार रुपए मासिक मानदेय दिया जाएगा और न्यूनतम 100 दिनों से एक साल की तक कोविड केयर के लिए दी गई। सेवा को एक साल की सेवा मानी जाएगी तथा उन्हें नियमित नियुक्ति में अंकों में छूट दी जाएगी।

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.