By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

मुजफ्फरपुर : प्रेमी हत्या मामले में 4 गिरफ्तार, प्रेमिका के घर के बाहर हुआ अंतिम संस्कार

HTML Code here
;

- sponsored -

बिहार के मुज़फ्फरपुर जिले से  शुक्रवार देर रात एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई. जिले में एक प्रेमी को अपनी प्रेमिका से मिलना इस कदर भारी पड़ा कि उसे अपनी जान ही गंवानी पड़ी. लड़की के परिजनों ने लड़के को बेरहमी से रॉड से पीटा और इतना ही नहीं तक वे नहीं रुके.

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के मुज़फ्फरपुर जिले से  शुक्रवार देर रात एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई. जिले में एक प्रेमी को अपनी प्रेमिका से मिलना इस कदर भारी पड़ा कि उसे अपनी जान ही गंवानी पड़ी. लड़की के परिजनों ने लड़के को बेरहमी से रॉड से पीटा और इतना ही नहीं तक वे नहीं रुके. इसके बाद परिजनों ने लड़के के प्राइवेट पार्ट को भी काट डाला. जिसके बाद इलाज के दौरान उसकी जान चली गयी. हत्या के अगले दिन शनिवार को लोगों ने जमकर बवाल काटा. रेपुरा स्थित मुजफ्फरपुर-देवरियाकोठी रोड को दो घंटे तक जाम रखा. पोस्टमार्टम के बाद युवक का शव लेकर परिजन युवती के दरवाजे पर पहुंचे और दाह संस्कार कर दिया. गांव में तनाव की स्थिति को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई.

इसके बाद बवाल के बीच पुलिस ने मुख्य आरोपित युवती के पिता को गिरफ्तार कर लिया. वहीं बवाल में रेपुरा रामपुर साह के अशोक ठाकुर, रंजीत ठाकुर व मुकेश कुमार को गिरफ्तार किया गया है। सिटी एसपी राजेश कुमार ने बताया कि प्रेम प्रसंग में हत्या को लेकर युवक के परिजन ने युवती के पिता सुशांत पांडेय, भाई, चाचा व चचेरा भाई पर नामजद एफआईआर दर्ज करायी है। प्रेम प्रसंग में युवक की हत्या की बात सामने आई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है.

इस घटना के बारे में बताया जा रहा है कि, सौरभ कुमार का सोनबरसा गांव की एक युवती के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा था. एक रात वह अपनी प्रेमिका से मिलने के लिए उसके घर पहुंचा. जिसकी भनक प्रेमिका के परिजनों को लग गयी. इसके बाद क्या था, लड़की के परिजनों का आक्रोश फूट पड़ा और लड़के की बेरहमी से पिटाई कर डाली. परिजनों ने लड़के को रॉड से खूब पीटा और साथ ही उसके प्राइवेट पार्ट को भी धारदार हथियार से काट डाला.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

इसके बाद परिजनों ने सुनियोजित तरीके से युवक को अस्पताल पहुंचा दिया और सभी परिजन मौके से फरार हो गए. साथ ही लड़के के परिजनों को भी इसकी सूचना दे दी. जिसके बाद लड़के के परिजनों में हड़कंप मच गया. इलाज के ही दौरान सौरभ ने अपना दम तोड़ दिया. वहीं, घटना की सूचना पर कांटी थानेदार कुंदन कुमार मौके पर पहुंचे और इस मामले के बारे में जानकारी ली. सौरभ के पिता मनीष कुमार ऑटो रिक्शा चलाते हैं. इसी महीने आठ जुलाई को सौरभ की बहन की शादी हुई थी. सौरभ की हत्या के बाद परिवार गहरे सदमे में है.

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.