By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर प्रशासन सख्त,13 कुख्यात अपराधियों को दूसरे जेल में डाला जाएगा

;

- sponsored -

बिहार (Bihar) में विधानसभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग के द्वारा तारीखों के एलान के बाद अब प्रशासनिक स्तर पर भी तैयारियां शुरू हो गई है। बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) को लेकर प्रशासन सख्त हो गई है। पटना जिले के 11 अनुमंडलों में 14 कंपनियां की तैनाती की जाएगी। थानेदार और सर्किल इंस्पेक्टर बूथों का सत्यापन करने में जुट गए हैं।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार (Bihar) में विधानसभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग के द्वारा तारीखों के एलान के बाद अब प्रशासनिक स्तर पर भी तैयारियां शुरू हो गई है। बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) को लेकर प्रशासन सख्त हो गई है। पटना जिले के 11 अनुमंडलों में 14 कंपनियां की तैनाती की जाएगी। थानेदार और सर्किल इंस्पेक्टर बूथों का सत्यापन करने में जुट गए हैं।

एएसपी उपेंद्र शर्मा ने जानकारी देते हुए कहा कि नॉमिनेशन से पहले सेंट्रल आर्म्स पुलिस फोर्स बल की भी तैनाती की जाएगी। फरार आरोपियों की गिरफ्तारी और शराब माफिया पर शिकंजा कसने के लिए पुलिस ने छापेमारी तेज कर दी है।

साथ ही 50 से अधिक उम्र वाले जवानों के लिए चुनाव में ड्यूटी दिया जाए या नहीं इस पर भी मंथन किया जा रहा है। पटना पुलिस 231 लोगों पर सीसीए लगाने के लिए डीएम को प्रस्ताव भेजा गया है। साथ ही 13 कुख्यात अपराधियों को दूसरे जेलों में ट्रांसफर करने का भी प्रस्ताव भेजा गया है।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

कुख्यात अपराधियों का पटना से भागलपुर और बक्सर जेल में ट्रांसफर किया जा सकता है। इतना ही नहीं, पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए 51 लाइसेंसी आर्म्स को भी कैंसल कर दिया है और 200 लाइसेंसी हथ्यार को जिला प्रशासन ने जमा कराया है। एक अगस्त से अब तक अवैध 92 हथियार और 151 गोलियां भी जब्त की गई है। मिली जानकारी के अनुसार एक अगस्त से वाहन चेकिंग में 1 करोड़ 41 लाख रुपए जुर्माना वसूला गया है।

;

-sponsored-

Comments are closed.