By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

औरंगाबाद : बिहार के DGP ने फिर की लोगों से नशामुक्त समाज बनाने की अपील

- sponsored -

नशामुक्ति एवं स्वच्छता अभियान के तहत बिहार के पुलिस महानिदेशक (DGP) गुप्तेश्वर पाण्डे (Gupteshwar Pandey) शनिवार को औरंगाबाद पहुंचे। इस दौरान उन्होंने नगर भवन में आयोजित शांति सह निगरानी समिति की बैठक को सम्बोधित किया।

Below Featured Image

-sponsored-

औरंगाबाद : बिहार के DGP ने फिर की लोगों से नशामुक्त समाज बनाने की अपील

सिटी पोस्ट लाइव : नशामुक्ति एवं स्वच्छता अभियान के तहत बिहार के पुलिस महानिदेशक (DGP) गुप्तेश्वर पाण्डे (Gupteshwar Pandey) शनिवार को औरंगाबाद पहुंचे। इस दौरान उन्होंने नगर भवन में आयोजित शांति सह निगरानी समिति की बैठक को सम्बोधित किया। उन्होंने उपस्थित सैकडों की भीड़ को संबोधित करते हुए समाज को नशामुक्त बनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि शराबबंदी के प्रति सरकार और प्रशासन की मनसा स्पष्ट है, शराब माफियाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है। नशा मुक्ति को लेकर आम लोग जागरूक हैं जिससे यह शराब बंदी सफल हुआ है। इसे लेकर बिहार के कई शहरों में 400 से अधिक सभाएं की गई हैं। बिहार ऐसा राज्य है जहां शराब बंदी के बाद लोग जागरूक होकर नशा मुक्ति की ओर बढ़ रहे हैं। उन्होंने लोगों से अपील किया कि वे लोग अवैध शराब कारोबार या शराब के सेवन करने वालों की सुचना पुलिस को जरुर दें, पुलिस त्वरित कार्रवाई करेगी। व्यवसायियों को आश्वस्त किया कि शराबबंदी और नशा मुक्ति को लेकर हर संभव मदद पुलिस प्रशासन को की जाएगी। साथ ही उन्होंने स्वच्छता पर भी जोर दिया। उन्होंने लोगों से अपने घर के साथ साथ अपने वातावरण और पर्यावरण को भी स्वच्छ रखने की अपील की।

पुलिस महानिदेशक (DGP) गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) ने सिटी पोस्ट लाइव (City Post Live) को बताया कि पुलिस के कार्यवाही सन्देहास्पद है बगैर थानेदार के इजाजत के एक बोतल दारू इधर से उधर करना किसी के भी बस की बात नहीं। अगर थानेदार को अपने क्षेत्र के अपराधियों की पहचान नहीं है तो उक्त अधिकारी थानेदार बनने के लायक नही है। शांति समिति का सदस्य अगर ईमानदार है तो कोई भी थानेदार क्या एसपी भी हाथ नही लगा सकता है। उन्होंने चौकीदारों को भी हिदायत देते हुए कहा कि अपने क्षेत्र में शराब पूरी तरह बन्द कीजिये। उन्होंने लॉटरी, गांजा, अफीम, शराब आदि को पूर्णतः बन्द करने का आह्वान किया। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर नही बन्द कर सकते तो जेल जाने के लिए भी तैयार रहें।

Also Read

-sponsored-

गुप्तेश्वर पांडेय ने वर्तमान दौर में उतपन्न आपसी द्वेष पर भी चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि आज के परिवेश में रोटी से लेकर एक धुर जमीन तक के लिए भाई-भाई का दुश्मन बन बैठा है। छोटी सी बात पर लोग एक दूसरे के जानी दुश्मन बनते जा रहे हैं। आपसी प्रेम-सद्भावना दूर हो रही है। पर समाज को समझना होगा पड़ोस का बेटा भी आपका बेटा है। भारतीय समाज प्रेम भावना का प्रतीक है। जिसका सम्मान सम्पूर्ण विश्व करता है। हमें आपसी सामंजस्य बना कर रखना होगा। शांति सह निगरानी के टास्क देते हुए कहा कि अपने जिले को पूरी तरह आप नशामुक्त बनाये। इस मौके पर जिलापदधिकारी (DM) राहुल रंजन महिवाल ,पुलिस अधीक्षक (SP) दीपक बरनवाल , अवर पुलिस अधीक्षक अभियान (ASP, Operation) राजेश कुमार सिंह, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी-औरंगाबाद (SDPO) अनुप कुमार, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी-दाऊदनगर(SDPO) राजकुमार तिवारी, शांति समिति के अध्यक्ष कामेश्वर वैद्य के अलावा जिले के गण्यमान्य व्यक्ति एवं समाजसेवी उपस्थित थे।

विकाश चन्दन की रिपोर्ट 

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.