By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

टीएसपीसी नक्सलियों के विरुद्ध चतरा पुलिस को मिली एक बड़ी कामयाबी

;

- sponsored -

चतरा पुलिस को जिले में सक्रिय प्रतिबंधित नक्सली संगठन तृतीय प्रस्तुति सम्मेलन कमेटी यानी टीएसपीसी के विरुद्ध एक बार फिर बड़ी सफलता हाथ लगी है।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव, चतरा: चतरा पुलिस को जिले में सक्रिय प्रतिबंधित नक्सली संगठन तृतीय प्रस्तुति सम्मेलन कमेटी यानी टीएसपीसी के विरुद्ध एक बार फिर बड़ी सफलता हाथ लगी है। एसपी ऋषभ झा को मिली गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस और सीआरपीएफ 190 बटालियन की संयुक्त टीम ने लावालौंग थाना क्षेत्र के सिलदाग- खामडीह जंगल से पुलिस से लूटी गई राइफल के साथ भारी मात्रा में हथियार व जिंदा कारतूस आदि बरामद किया है। पुलिस को यह सफलता पूर्व में गिरफ्तार नक्सली सब जोनल कमांडर कृष्णा गंझू के निशानदेही के आधार पर हाथ लगी है।

समाहरणालय स्थित पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में एसपी ऋषभ झा ने आज पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार सब जोनल कमांडर ने पूछताछ के दौरान बताया था कि पेट्रोलिंग पर निकली पुलिस पार्टी को निशाना बनाने के उद्देश्य से बड़े पैमाने पर हथियार और कारतूस लावालौंग जंगल मे छिपाकर रखे गए हैं। सूचना के आधार पर एएसपी अभियान निगम प्रसाद और सिमरिया एसडीपीओ बचन देव कुजूर के नेतृत्व में संयुक्त टीम बनाकर अभियान चलाने का निर्देश दिया गया था। अभियान के दौरान ही सिलदाग- खामडीह जंगल से पुलिस से लूटी गई रायफल के साथ भारी मात्रा में कारतूस बरामद किया गया है। यह हथियार और गोली नक्सलियों द्वारा जमीन में गाड़ कर रखे गए थे। उन्होंने बताया कि अभियान के दौरान पुलिस से लूटी गई .303 बोर का खाली मैगजीन लगा रायफल, .303 एमएम का 189, .306 एमएम का 237, 7.62 एमएम का 18, आठ एमएम का 07 जिंदा गोली, विभिन्न नम्बर लिखा .306 एमएम का आठ खाली खोखा व 11 पीस गोली चार्जर बरामद किया गया है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीआरपीएफ के कमांडेंट पवन कुमार बासन, एएसपी अभियान निगम प्रसाद व एसडीपीओ अविनाश कुमार उपस्थित थे।

;

-sponsored-

Comments are closed.