By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

अटल पथ पर दिनदहाड़े लूटकांड का हुआ खुलासा, पूर्व मंत्री के मैनेजर और चालक ने रची थी साजिश

HTML Code here
;

- sponsored -

पिछले दिनों दिनदहाड़े पटना के अति पौश सड़क अटल पथ पर हुई लूटकांड का पुलिस ने खुलासा कर लिया है. इस मामले में 6 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने इनके पास से एक देसी पिस्टल और 5 जिंदा कारतूस भी बरामद किया है. बता दें 15 नवंबर को राजधानी के अटल पथ पर सरेआम 41 लाख रुपए की लूट हुई थी.

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : पिछले दिनों दिनदहाड़े पटना के अति पौश सड़क अटल पथ पर हुई लूटकांड का पुलिस ने खुलासा कर लिया है. इस मामले में 6 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने इनके पास से एक देसी पिस्टल और 5 जिंदा कारतूस भी बरामद किया है. बता दें 15 नवंबर को राजधानी के अटल पथ पर सरेआम 41 लाख रुपए की लूट हुई थी. जिसके बाद पूरे शहर में सनसनी फैल गई थी. मामले की जानकारी देते हुए एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने शनिवार को बताया कि चश्मदीदों के बयान, सूचना, तकनीकी अनुसंधान व वादी के बयानों से ये साफ हो रहा था कि इसमें किसी अपने स्टाफ का ही हाथ है.

जांच के लिए बनाई गई टीम ने इनके बारे में सूचना एकत्र करना शुरू किया, जिसमें कई चौंकाने वाली बातें सामने आईं. एसएसपी ने बताया कि जांच में यह सामने आया कि रुपए को लेकर जा रहा वर्क मैनेजर संजीव पूर्व में आर्म्स एक्ट में जेल जा चुका है, जिसका केस जक्कनपुर थाने में दर्ज है। संजीव का कुछ आपराधिक गिरोहों से भी घनिष्ठ संबंध है. एसएसपी ने बताया कि इसी क्रम में पुलिस को सूचना मिली कि इससे संबंधित कुछ अपराधी पाटलिपुत्र में इससे मिलने अक्सर आते हैं। सूचना मिलने के बाद गठित टीम ने घेराबंदी कर इंडस्ट्रियल एरिया स्थित कोका कोला फैक्ट्री के पास से 6 लोगों को 2 बाइक के साथ पकड़ा.

पुलिस ने वर्क मैनेजर संजीव कुमार (मुजफ्फरपुर), चालक चंदन कुमार (वैशाली), सुजीत कुमार (गेट नंबर 65, दीघा), रवि कुमार (सदाकत आश्रम, पाटलिपुत्र), तन्नु पाल उर्फ बंशी (मनेर) और दिलीप कुमार (रामकृष्णानगर) को गिरफ्तार किया है। एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बताया कि संजीव, चंदन और मैनेजर अनुनय एक ही फ्लैट में रहते थे. चंदन और संजीव उसी के कमरे में रूममेट थे. पुलिस ने  लूटी गयी रकम में से 18 लाख 60 हजार रुपये, एक मोबाइल, एक कट्टा, पांच गोलियां घटना में इस्तेमाल किये गये कपड़े और बाइक भी बरामद कर ली गयी है.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

एसएसपी ने कहा कि गहन पूछताछ के क्रम में इन्होंने खुलासा किया कि 41 लाख लूट कांड को इन्होंने ने ही अंजाम दिया था। लाइनर का काम मां जानकी ट्रांसपोर्ट के वादी पक्ष के ही संजीव कुमार और ड्राइवर चन्दन द्वारा किया गया था। संजीव को यह सूचना थी कि छठ पूजा के कारण व्यवसायिक लेनदेन के रुपये एकत्र हुए हैं। इस मौके को देखकर इसने अपराधियों को इसके सूचना दी। पकड़े गए दोनों बाइको का इस्तेमाल घटना में हुआ था। तत्काल इनकी निशानदेही पर 18 लाख 60 हजार रुपए बरामद किए गए। साथ ही अन्य खरीदे गए समान को भी बरामद किया गया। इस राशि मे से कुछ रुपए इन्होंने अय्याशी में भी खर्च किया था। घटना में इनके द्वारा पहने गए पोशाक भी बरामद किया गया है। इन सभी की खातों की जानकारी लेकर उन्हें सील किया जा रहा है।

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.