By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

शराबी पिता ने 3 वर्षीय पुत्र की गला रेतकर की हत्या, हत्यारा फरार

;

- sponsored -

बिहार सरकार ने राज्य में शराबबंदी कानून को लागू कर रखा है लेकिन लोग इसका सेवन करने से बाज नहीं आ रहे हैं. इस शराबबंदी के कारण हर रोज कई जिंदगियां बेमौत मारी जाती हैं.

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

शराबी पिता ने 3 वर्षीय पुत्र की गला रेतकर की हत्या,हत्यारा फरार:बिहार 

सिटी पोस्ट लाइव- बिहार सरकार ने राज्य में शराबबंदी कानून को लागू कर रखा है लेकिन लोग इसका सेवन करने से बाज नहीं आ रहे हैं. इस शराबबंदी के कारण हर रोज कई जिंदगियां बेमौत मारी जाती हैं. कुछ इसी तरह का मामला प्रकाश में गोपालगंज से आया है जहां एक शराबी पिटा ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी. उसने पहले शराब के नशे में अपने तीन वर्षीय मासूम बेटे की निर्मम हत्या कर दी. वहीं दूसरे बच्चे के भी कत्ल की कोशिश कर रहा था लेकिन तब तक बच्चे के मां की नींद खुल गई. पत्नी को देख हत्यारा पिता मौके फरार हो गया. यह घटना जिले के हथुआ के मोतीपुर चिकटोली गांव की है

इस हत्या के बाद घर में कोहराम मच गया. तीन वर्षीय मासूम बच्चे का नाम इरशाद अली है जो उचकागांव थाना के लाइन बाजार निवासी आजाद हुसैन का पुत्र था.इरशाद का पिता शराब का नशा करता है और नशे में ही अपनी पत्नी के साथ मारपीट करता है. पति के मारपीट से तंग आकर उसकी पत्नी अपने रिश्तेदार के यहां हथुआ के मोतीपुर चिक टोली गांव में आ गई थी.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

बच्चों की मां ने बताया कि उसका पति अपने दूसरे बेटे आसे आलम को मां के पास से खींचकर ले जाना चाह रहा था लेकिन तब तक घर के दूसरे सदस्यों की नींद खुल गई. घर के लोगों ने देखा कि आंगन में तीन वर्षीय मासूम का शव फेंक दिया गया है.घर वालों ने शव को कब्जे में लेकर जब हत्यारे पिता को पकड़ना चाहा तो वो चकमा देकर फरार हो गया.पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया है और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. वहीं हत्यारा पिता अभी तक पुलिस के गिरफ्त से बाहर है.

जे.पी.चंद्रा की रिपोर्ट 

;

-sponsored-

Comments are closed.