By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

लोदीपुर गांव में हुए नरसंहार मामले में 16 अभियुक्तों के ख़िलाफ़ नामज़द FIR दर्ज, दो गिरफ्तार

अन्य की जारी है तलाश

HTML Code here
;

- sponsored -

छबिलापुर थाना क्षेत्र के लोदीपुर गांव में बुधवार को भूमि विवाद के चलते हुई गोलीबारी में 6 लोगों की गोलियों से मौत मामले में 16 लोगों के ख़िलाफ़ नामज़द प्राथमिकी दर्ज किया गया है. पुलिस ने मौके से घर में छिपे दो लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : छबिलापुर थाना क्षेत्र के लोदीपुर गांव में बुधवार को भूमि विवाद के चलते हुई गोलीबारी में 6 लोगों की गोलियों से मौत मामले में 16 लोगों के ख़िलाफ़ नामज़द प्राथमिकी दर्ज किया गया है. पुलिस ने मौके से घर में छिपे दो लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. शुक्रवार को भी गांव का नजारा भयावह था. एक साथ 6 लोगों की लाश उठने से हर ओर चीख पुकार मचा था. गांव की महिलाओं के चीख पुकार से लोदीपुर गांव में मातमी सन्नाटा पसरा था. गांव की गलियों में लोगों के खून से सने पंजों के निशान अभी तक नहीं सूखे थे.

निशाना ही घटना की भयावह तस्वीर को दर्शा रहा है. गौरतलब है कि यह पूरा मामला स्व. रामस्वरूप यादव के पुत्रों के बीच 50 बिगहा जमीन को लेकर वर्षों से तीन पीढ़ियों के बीच विवाद चल रहा था. स्व. राम स्वरूप यादव के मरने के बाद यह विवाद उनके एक पुत्र यदुनंदन यादव व दूसरे पुत्र महेन्द्र यादव के बीच विवाद चल रहा था. 17 अप्रैल 2021 को छबिलापुर थाना में थानेदार के सामने दोनों पक्षों ने बांड भरा था कि कोर्ट का फैसला आने तक खेत नहीं जोतेंगे.

लेक़िन इसके बावजूद अचानक से महेंद्र यादव अपने अन्य सहयोगियों से साथ बुधवार को बाहर से ट्रैक्टर बुलाकर खेत की जुताई शुरू कर दी. चार बिगहा से अधिक खेत को जोत लिया. खेत को जोतता देखकर दोपहर 12 बजे के आसपास उनके परिवार के लोगों ने बदमाशों को मना करने खेत पर गए. खेत पर जाते ही महेंद्र यादव व उनके पुत्रों सहित बाहर से आए लोगों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाना शुरू कर दिया. इसमें 8 लोगों को गोली लगी जबकि 6 लोगों की मौत खेत पर ही हो गई.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

घटना की सूचना ज़िले में जंगल की आग की तरह फैल गई. जिससे प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया. मौक़े पर पुलिस कप्तान हरि प्रसाथ एस अनुमंडल पुलिस पदाधिकारियों के साथ कई थानों की पुलिस स्थल पर पहुंचकर कई घंटे तक ग्रामीणों से तीख़ी नोकझोंक होती रही और उन्हें समझाने की कोशिश लगातार चलती रही, जिसके बाद वे लोग माने और शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाने का इजाज़त दिया.

बुधवार को एसपी हरि प्रसाथ एस छबिलापुर थाना पहुंच कर डीएसपी, इंस्पेक्टर समेत अधिकारियों के साथ बैठक कर अब तक के कार्रवाई के बारे में जानाकरी ली. उन्होनें बताया कि 16 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. पुलिस दो आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दी है. अन्य फरार आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. इसके साथ ही पुलिस सभी बिंदुओं पर बारीक़ी से जांच कर रही है. जो भी दोषी होगें उनपर कार्रवाई की जाएगी.

नालंदा से मो. महमूद आलम की रिपोर्ट

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.