By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

गढ़वा: मंदिर से चोरी गई अष्ठधातु की प्रतिमा बरामद, महिला सहित चार गिरफ्तार

;

- sponsored -

गढ़वा पुलिस ने कांडी थाना अंतर्गत सेमौरा गांव से मंदिर से चोरी गई अष्टधातु की बनी राधा कृष्ण की मूर्ति को बरामद कर लिया है।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

गढ़वा: मंदिर से चोरी गई अष्ठधातु की प्रतिमा बरामद, महिला सहित चार गिरफ्तार

सिटी पोस्ट लाइव, गढ़वा: गढ़वा पुलिस ने कांडी थाना अंतर्गत सेमौरा गांव से मंदिर से चोरी गई अष्टधातु की बनी राधा कृष्ण की मूर्ति को बरामद कर लिया है। इस संबंध में चोरी की घटना को अंजाम देने वाले एक अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने एक महिला सहित चार अपराधियों को गिरफ्तार किया है। जबकि इस घटना में शामिल एक अन्य अपराधी पुलिस के गिरफ्त से बाहर है। यह जानकारी एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेस में दी। एसपी ने बताया कि चोरी की घटना के उदभेदन के लिए अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी बहामन टूटी के नेतृत्व में एक एसआईटी का गठन किया गया।  टीम की कड़ी मेहनत से एक सप्ताह के अंदर सफलता मिली। सबसे पहले कांडी थाना के ही बलियारी गांव के अमित कुमार दुबे  से कड़ी पूछताछ की गई। फलस्वरूप पूरी घटना का खुलासा हो गया। उन्होंने बताया कि अमित को तुरंत गिरफ्तार कर लिया गया तथा उसकी निशानदेही पर घटना में संलिप्त अन्य चार अपराधियों में पलामू जिला के डंडिला कला गांव निवासी दिलकश रोशन को हूर्लोंग ग्राम पलामू से गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधी अमित दुबे के अनुसार उसके साथ तीन अपराधी घटना की रात मंदिर की चहारदीवारी फांद कर मंदिर का गर्भगृह के ताला तोड़ने का प्रयास किया।

सफलता नहीं मिलने पर एक संकीर्ण गैप के सहारे मंदिर में प्रवेश कर स्थापित मूर्ति को उखाड़ा एवं उसी रास्ते मूर्ति सहित बाहर आये। इसके बाद एक बाइक के सहारे पलामू जिला के पाकी थाना अंतर्गत हूर्लोंग गांव में महिला मित्र समीना खातून के घर मूर्ति को छुपा दिया । जहां से मूर्ति एवं मोटरसाइकिल भी बरामद की गई है। उन्होंने बताया कि मूर्ति छुपाने के आरोप में उस महिला को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। एसपी ने बताया कि अपराधियों ने मूर्ति बेचने के लिए बिहार के डेहरी में पूर्व परिचित सोनार शैलेंद्र कुमार से संपर्क कर रखा था। उन्होंने बताया कि अपराधियों द्वारा दोनों अष्टधातु की मूर्ति की कीमत करोड़ रुपये मिलने की बात पर आश्वस्त थे। उन्होंने बताया कि संबंधित सोनार शैलेंद्र को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।उन्होंने बताया कि गिरोह के एक अन्य सदस्य जियाउद्दीन अभी भी गिरफ्त से बाहर हैं। जिसे शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.