By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

जेजेएमपी ने ली गहन हत्याकांड की जिम्मेदारी, जोनल कमांडर ने जारी किया बयान

नक्सली संगठन ने ट्रांसपोर्ट में लगी कंपनी को भी धमकाया

- sponsored -

हजारीबाग जिले के उरीमारी में विस्थापित नेता सह झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय समिति सदस्य गहन टूडू की हत्या की जिम्मेदारी नक्सली संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद के जोनल कमांडर ने ली है।

Below Featured Image

-sponsored-

जेजेएमपी ने ली गहन हत्याकांड की जिम्मेदारी, जोनल कमांडर ने जारी किया बयान
सिटी पोस्ट लाइव, रामगढ़: हजारीबाग जिले के उरीमारी में विस्थापित नेता सह झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय समिति सदस्य गहन टूडू की हत्या की जिम्मेदारी नक्सली संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद के जोनल कमांडर ने ली है। जेजेएमपी संगठन के जोनल कमांडर शशिकांत ने अपने लिखित बयान में इस हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए कोयलांचल में काम कर रही ट्रांसपोर्ट कंपनियों को भी धमकाया है। नक्सली संगठन ने कहा है कि गहन टुडू विस्थापितों का नेता और जनप्रतिनिधि का मुखौटा पहनकर गरीब-आदिवासियों का शोषण कर रहा था। उसने गरीबों का हक मारकर लग्जरी गाड़ियां खरीदी थीं। इसके अलावा वह प्रतिद्वंदी नक्सली संगठन टीपीसी की गोद में बैठा हुआ था। जेजेएमपी के जोनल कमांडर शशिकांत ने लिखा है कि गहन को कई बार चेतावनी दी गयी थी कि वह गरीबों का शोषण बंद कर दे लेकिन वह नहीं सुधरा। इसी वजह से जेजेएमपी के फौजी दस्ते ने उसपर कार्रवाई की है। इसके अलावा हजारीबाग, रामगढ़ और चतरा जिले में काम कर रही कोल कंपनियां, रेलवे साइडिंग में लगे ट्रांसपोर्ट और लोकल सेल संचालकों को भी जेजेएमपी के जोनल कमांडर ने सीधे तौर पर धमकी दी है।
Also Read

-sponsored-

जेजेएमपी ने ली गहन हत्याकांड की जिम्मेदारी, जोनल कमांडर ने जारी किया बयान
उन्होंने कहा है कि गरीब मजदूर, आदिवासियों का शोषण कंपनियां बंद करें। साथ ही जेजेएमपी संगठन से बात करने के बाद ही वह अपने क्षेत्र में काम करें। नहीं तो उनकी हालत भी बीजीआर कंपनी के मैनेजर मल्लिकार्जुन और गहन की तरह कर दी जाएगी। इस प्रेस बयान के साथ शशिकांत ने अपनी एक तस्वीर भी सोशल मीडिया पर जारी की है। हजारीबाग एसपी मयूर पटेल कन्हैया लाल ने बताया कि जेजेएमपी इलाके में उस तरीके से सक्रिय नहीं है। इस इलाके में नक्सली संगठन टीपीसी की गतिविधि रहती है। उन्होंने कहा कि किसने गहन टुडू की हत्या की है, यह स्पष्ट नहीं है। हालांकि उन्होंने माना कि यह नक्सली संगठन से जुड़ा मामला हो सकता है। इस मामले की जांच चल रही है। जल्द ही हत्यारा गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इधर उरीमारी थाना प्रभारी इसरार अहमद ने कहा कि पूरे इलाके में छापेमारी की जा रही है। गहन के हत्यारों की गिरफ्तार के लिए स्पेशल टीम बनाई गई है।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.