City Post Live
NEWS 24x7

JDU विधायक के करीबी का हत्यारा जेपी यादव गिरफ्तार, कई केस में थी तलाश.

- Sponsored -

-sponsored-

- Sponsored -

सिटी पोस्ट लाइव :बिहार के गोपालगंज पुलिस ने मोस्ट वांटेड विशाल सिंह अपराधिक गैंग के एक कुख्यात गुर्गे को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार अपराधी का नाम जयप्रकाश यादव उर्फ जेपी यादव (Gopalganj Criminal JP Yadav) है, जो हथुआ थाना क्षेत्र के रूपनचक गांव के महेश यादव का पुत्र है. कुख्यात जेपी यादव पर साल 2020 में 28 नवंबर को गोपालपुर थाना क्षेत्र के राजापुर बाजार में कुचायकोट के जदयू विधायक अमरेन्द्र कुमार पांडेय (JDU MLA Amrendra Pandey) उर्फ़ पप्पू पांडेय के करीबी और सपहा गांव निवासी ठेकेदार देवेंद पांडेय तथा बीडीसी सदस्य पप्पू पांडेय की गोलियों से भूनकर हत्या करने के अलावा लूट, रंगदारी और ऑर्म्स फैक्ट्री चलाने समेत 10 अपराधिक मामले दर्ज हैं.

एसपी आनंद कुमार ने गिरफ्तारी की जानकारी देते हुए बताया कि जेपी के खिलाफ दो हत्या, चार हत्या के प्रयास, चार रंगदारी और एक ऑर्म्स फैक्ट्री चलाने का मामला दर्ज है. कुख्यात जेपी यादव की गिरफ्तारी महम्मदपुर थाना क्षेत्र के ओवरब्रिज के नीचे से की गई, जहां से वह दूसरे राज्य में भागने की फिराक में था. एसपी ने बताया कि कुख्यात जेपी यादव भागकर दिल्ली जानेवाला था, लेकिन पुलिस को इसके पहले सूचना मिल गयी और उसे गिरफ्तार किया था.इसके पहले इस ग्रुप के आधे दर्जन सदस्यों को पुलिस जेल भेज चुकी है और जेपी यादव की गिरफ्तारी के लिए काफी दिनों से पुलिस प्रयास में लगी थी लेकिन हर बार पुलिस को चकमा देकर भाग जाता था.

पटना और समस्तीपुर में एसआइटी छापेमारी करने पहुंची थी, लेकिन वहां से चकमा देकर जेपी यादव फरार हो गया था. इस बार भागने में कामयाब नहीं हो सका और एसआइटी ने उसे गिरफ्तार कर जेल की सेल में डाल दिया.गिरफ्तार जेपी यादव से पूछताछ पुलिस कर रही है. कुख्यात जेपी यादव को कौन संरक्षण दे रहा था, उसकी जांच चल रही है. पैसे से या अन्य संसाधनों से कुख्यात को फायदा कौन-कौन पहुंचा रहा था, पुलिस ऐसे लोगों की सूची तैयार कर रही है. इस कुख्यात अपराधी की गिरफ्तारी के बाद पुलिस कलेक्ट्रेट से पैदल मार्च करते हुए कोर्ट तक जब पेशी के लिए लेकर गयी तो कुख्यात के समर्थक सेलिब्रिटी की तर्ज पर सेल्फी लेते रहे और जिंदाबाद के नारे लगाते रहे.

कुख्यात जेपी यादव के हाथों में हथकड़ी और चेहरे पर हवाईयां होने के बाद भी गिरफ्तारी का अफसोस नहीं था. कुख्यात से जब हत्या, लूट, रंगदारी के मामले में गिरफ्तार होने की बात पूछी गया तो उसने साजिश के तहत फंसाने की बात कही और जदयू विधायक अमरेंद्र कुमार उर्फ पप्पू पांडेय पर आरोप लगाया. हालांकि पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट में पेश करने के बाद कुख्यात को जेल भेज दिया.

- Sponsored -

-sponsored-

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news, updates and special offers delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time

-sponsored-

Comments are closed.