By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

अब,भागलपुर में भी चमकी बुखार का कहर, मासूमों के मौतों का आंकड़ा पहुंचा 150

Above Post Content

- sponsored -

बिहार में इन्सेफेलाईटिस का कहर जारी है. गुरुवार को मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच अस्पताल में एक और बच्चे की इलाज के दौरान मौत होने से अब यह आंकड़ा 153 पहुँच चुका है.जिसमे केवल मुजफ्फरपुर में 119 बच्चों की मौत हुई है. एसकेएमसीएच में तीन और केजरीवाल अस्पताल में एक बच्चे ने दम तोड़ा . बुधवार की शाम से SKMCH में 11 और केजरीवाल में दो नए मरीज भर्ती हुए है. इस बीमारी से अबतक 500 से ज्यादा बच्चे प्रभावित हुए हैं.

Below Featured Image

-sponsored-

अब,भागलपुर में भी चमकी बुखार का कहर, मासूमों के मौतों का आंकड़ा पहुंचा 150

सिटी पोस्ट लाइव- बिहार में इन्सेफेलाईटिस का कहर जारी है. गुरुवार को मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच अस्पताल में एक और बच्चे की इलाज के दौरान मौत होने से अब यह आंकड़ा 153 पहुँच चुका है.जिसमे केवल मुजफ्फरपुर में 119 बच्चों की मौत हुई है. एसकेएमसीएच में तीन और केजरीवाल अस्पताल में एक बच्चे ने दम तोड़ा . बुधवार की शाम से SKMCH में 11 और केजरीवाल में दो नए मरीज भर्ती हुए है. इस बीमारी से अबतक 500 से ज्यादा बच्चे प्रभावित हुए हैं.

वहीं अगर भागलपुर की बात करें तो AES इंसेफ्लाइटिस से चार बच्चों की मौत हुई है जिमसें से तीन बच्चों की JLNMCH में मौत हुई है जबकि चौथे बच्चे की देर रात अस्पताल पहुंचने पर परिसर में ही मौत हो गई.

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

बेतिया में एक, सीवान में एक, भोजपुर में एक, बेगूसराय में एक, भागलपुर के JLNMCH में AES से 4 बच्चों की मौत हुई है. वहीं शिवहर में AES से 2 बच्चों की, पटना के PMCH में 1 बच्चे की मोतिहारी में 7 बच्चों की समस्तीपुर में अब तक 5 बच्चों की, हाजीपुर में अबतक 11 बच्चों की मौत हुई है.

मालूम हो कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 16 दिन बाद मंगलवार को मुजफ्फरपुर के अस्पताल में पहुंचे थें . लेकिन वहाँ उन्हें लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा. लोगों ने जमकर नारेबाजी की और नीतीश कुमार वापस जाओ के नारे लगाएं. हालांकि प्रशासन ने नीतीश कुमार के आने से ही पहले सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर रखा था. धारा 144 भी लागू की गई थी.                                                   जे.पी.चंद्रा की रिपोर्ट

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.