By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

पटना : पथ निर्माण विभाग का इंजीनियर निकला ‘धन कुबेर’, निगरानी ने दबोचा

HTML Code here
;

- sponsored -

बिहार की निगरानी अन्वेषण ब्यूरो ने बड़ी कार्रवाई की है। पथ निर्माण विभाग के एक्जीक्यूटिव इंजीनियर कौन्तेय कुमार के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले में मंगलवार को कार्रवाई की गई।

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार की निगरानी अन्वेषण ब्यूरो ने बड़ी कार्रवाई की है। पथ निर्माण विभाग के एक्जीक्यूटिव इंजीनियर कौन्तेय कुमार के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले में मंगलवार को कार्रवाई की गई। करोड़ों की चल-अचल संपत्ति का खुलासा हुआ है

 इंजीनियर के पटना के गोसाई टोला स्थित फ्लैट की तलाशी में 15.50 लाख रुपए नगद के अलावा भारी मात्रा में सोने-चांदी के जेवरात मिले हैं। पत्नी के नाम पर चार अचल संपत्तियां भी हैं, जिसकी कीमत करोड़ों में हैं। विभिन्न बैंकों में आठ खाते और दो लॉकर भी मिले है।

निगरानी अन्वेषण ब्यूरो के मुताबिक पथ निर्माण विभाग के पटना सिटी स्थित गुलजारबाग अंचल में तैनात एक्जीक्यूटिव इंजीनियर कौन्तेय कुमार पर आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज किया गया है। जांच के दौरान 1 करोड़ 76 लाख 82 हजार 920 रुपए की आय से अधिक संपत्ति पाई गई।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

13 सितम्बर को इसकी प्राथमिकी दर्ज करने के बाद निगरानी के डीएसपी सुरेन्द्र कुमार मौआर के नेतृत्व में सदाकत आश्रम के पास गोसाई टोला स्थित नित्यानंद इन्कलेव के फ्लैट संख्या 403 की तलाशी ली गई। इस फ्लैट में कौन्तेय कुमार आने परिवार के साथ रहते हैं।

फ्लैट की तलाशी के दौरान लगभग 15.50 लाख रुपए नगद, 3.80 किलोग्राम चांदी और 691 ग्राम सोने का आभूषण मिले। बरामद आभूषणों की कीमत 33.75 लाख रुपए आंकी गई है। विभिन्न बैंकों में 8 खाता और दो लॉकर का भी पता चला। लॉकरों को फ्रीज करावा दिया गया है। वित्तीय संस्थाओं में बड़े पैमाने पर निवेश से संबंधित कागजात भी मिले हैं।

कौन्तेय कुमार की पत्नी के नाम पर बोरिंग रोड स्थित कृष्णा अपार्टमेंट के में दो फ्लैट खरीदे गए थे। अपार्टमेंट के ‘सी’ ब्लॉक के आठवें तल्ले पर फ्लैट संख्या 82-83 को मिलाकर एक बड़ा सा लक्जरी फ्लैट बनाया जा रहा है। यहां भी निगरानी की टीम पहुंची लेकिन कुछ नहीं मिला। दोनों फ्लैट और उसमें कराए जा रहे निर्माण की कीमत करोड़ों रुपए बताई गई है। इसके अलावा पटना का सगुना मोड़ और वैशाली के हाजीपुर में जमीन के दो दस्तावेज भी मिले हैं।

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.