By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

एटीएम तोड़ते पकड़े गए तीन लोग, एक आर्मी जवान तो दूसरा LIC एजेंट निकला

HTML Code here
;

- sponsored -

बिहार की राजधानी पटना में एक एटीएम में तीन अपराधियों को एटीएम तोड़ते रंगे हाथ पकड़ा गया है. खास बात इसमें ये रही की तीनों कहीं न कहीं अच्छी जगह काम करते हैं. तीन में से एक आर्मी जवान है तो दूसरा LIC एजेंट जबकि तीसरा पुणे स्थित ब्रांच में बतौर टेलर खुद को बता रहा है.

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार की राजधानी पटना में एक एटीएम में तीन अपराधियों को एटीएम तोड़ते रंगे हाथ पकड़ा गया है. खास बात इसमें ये रही की तीनों कहीं न कहीं अच्छी जगह काम करते हैं. तीन में से एक आर्मी जवान है तो दूसरा LIC एजेंट जबकि तीसरा पुणे स्थित ब्रांच में बतौर टेलर खुद को बता रहा है. घटना  शुक्रवार की देर रात पत्रकारनगर थानांतर्गत 90 फीट रोड में स्थित इंडिकैश के एटीएम के भीतर ही तीन अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया। इंडिकैश से सटे ही एचडीएफसी बैंक का एटीएम है, जिसमें 33 लाख रुपये थे। इंडिकैश के एटीएम में ढाई लाख रुपये थे.

कीर्ति आरएमएस कॉलोनी स्थित आशा अपार्टमेंट में रहता है. वह मूल रूप से सीतामढ़ी के सोनवर्षा का निवासी है। उसने पुलिस को बताया है कि वह एक निजी बैंक के पुणे स्थित ब्रांच में बतौर टेलर के रूप में काम करता है। हालांकि पुलिस का कहना है कि बैंक से पता लगाया जा रहा है कि वह बैंककर्मी है या नहीं।  वहीं, पुलिस के हत्थे चढ़ा तीसरा आरोपित राहुल कुमार मूल रूप से गोपालपुर थाना इलाके के जकरियापुर, रानी नगर का रहने वाला है और फिलहाल संपतचक में रहता है। वह एलआईसी एजेंट है। पुलिस ने इनके पास से एक चार पहिया गाड़ी बरामद की है, जिसमें सवार होकर एटीएम तोड़ने पहुंचे थे। 

पटना पुलिस की मानें तो आईपीएल मैच में सट्टा पर करीब 10 लाख रूपए गंवाने के बाद उसका कर्ज चुकाने के लिए साले के साथ मिलकर फौजी ने एटीएम लूट की प्लानिंग बनाई थी. इसमें इन दोनों ने अपने एक साथी को भी शामिल कर लिया. ये तीनों अपराधी कार से एटीएम काटने पहुंचे थे. एटीएम काटने के दौरान इन तीनों पर एक आदमी की नजर पड़ी और उसने स्थानीय थाना पर खुद पहुंचकर इस पूरे मामले की जानकारी पत्रकार नगर पुलिस को दी. इसके बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और एटीएम शटर को बाहर से ही बंद कर दिया. बाद में तीनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.