By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

नालंदा : मतगणना केंद्र के हॉल से प्रत्याशी को शराब के नशे में पुलिस ने किया गिरफ्तार

;

- sponsored -

नालंदा के सिलाव प्रखंड कार्यालय में सुरक्षा व्यवस्था और शराबबंदी की पोल उस वक्त खुल गई. जब पैक्स चुनाव के मतगणना केंद्र के हॉल से एक प्रत्याशी को शराब के नशे में गिरफ्तार किया गया.

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

नालंदा : मतगणना केंद्र के हॉल से एक प्रत्याशी को शराब के नशे में पुलिस ने किया गिरफ्तार

सिटी पोस्ट लाइव : नालंदा के सिलाव प्रखंड कार्यालय में सुरक्षा व्यवस्था और शराबबंदी की पोल उस वक्त खुल गई. जब पैक्स चुनाव के मतगणना केंद्र के हॉल से एक प्रत्याशी को शराब के नशे में गिरफ्तार किया गया. वहीं  इसी कार्यालय के भीतर दूसरा व्यक्ति भी शराब के नशे में गिरफ्तार हो गया. दरअसल घोषतावां  पंचायत के प्रबंधन कारिणी समिति  सदस्य के प्रत्याशी राजकुमार सिंह काउंटिंग हॉल में मौजूद थे, जिनके मुँह से शराब की बदबू आ रही थी. शक होने पर उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. दूसरा शख्स इसी मतगणना केंद्र के कार्यालय में गिरफ्तार हुआ जो जगदीशपुर का रहने वाला कृपाली मांझी है. इसकी पत्नी आंगनवाड़ी सेविका के पद पर कार्यरत है. दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर मेडिकल जांच के लिए सदर अस्पताल भेज दिया.

कुव्यवस्था का आलम यह रहा की निषेधाज्ञा का खुला उल्लंघन किया गया. वह भी पुलिस की मौजूदगी में. दरअसल सिलाव प्रखंड कार्यालय में 14 पंचायतों के पैक्स का मतगणना कराया जा रहा है. जिसमें विजय प्रत्याशी के समर्थक न केवल पूरे परिसर में जमे रहे, बल्कि निषेधाज्ञा का उल्लंघन करते हुए प्रखंड कार्यालय के भीतर घुसकर जीते हुए प्रत्याशियों के नारेबाजी करते दिखे. हालांकि इस संदर्भ में कोई भी अधिकारी कैमरे पर कुछ भी बोलने से परहेज करते रहे. इस संबंध में अनुमंडल पदाधिकारी डॉ संजय कुमार ने बताया कि मतगणना के दौरान मतगणना केंद्र के 500 गज की दूरी पर कोई भी मजमा लगाना पूरी तरह से गैरकानूनी है. ऐसा हुआ है तो जाँच के बाद कार्रवाई की जाएगी.

;

-sponsored-

Comments are closed.