By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

हत्या मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को किया गिरफ्तार, जेल से चल रहा था कॉन्ट्रैक्ट किलिंग

- sponsored -

बिहार की सीतामढ़ी पुलिस ने हत्या मामले के दो आरोपियों की गिरफ्तारी करते हुए जेल से खेले जा रहे कॉन्ट्रैक्ट किलिग के चल रहे खेल का भी उद्भेदन किया है। मामले के बारे में सदर डीएसपी डॉ कुमार वीर धीरेंद्र ने बताया कि अपराधियों की शिनाख्त घटना को अंजाम देने के दौरान फायर किए गए आग्नेयास्त्र में फंसे खोखे और मिस फायर बरामद ज़िंदा गोलियों के निशानदेही के आधार पर की गई है।

Below Featured Image

-sponsored-

हत्या मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को किया गिरफ्तार, जेल से चल रहा था कॉन्ट्रैक्ट किलिंग

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार की सीतामढ़ी पुलिस ने हत्या मामले के दो आरोपियों की गिरफ्तारी करते हुए जेल से खेले जा रहे कॉन्ट्रैक्ट किलिग के चल रहे खेल का भी उद्भेदन किया है। मामले के बारे में सदर डीएसपी डॉ कुमार वीर धीरेंद्र ने बताया कि अपराधियों की शिनाख्त घटना को अंजाम देने के दौरान फायर किए गए आग्नेयास्त्र में फंसे खोखे और मिस फायर बरामद ज़िंदा गोलियों के निशानदेही के आधार पर की गई है। उन्होंने बताया कि दोनों कॉन्ट्रेक्ट किलर सोनबरसा थाना क्षेत्र के भुतही के रहने वाले है।

वही अपराधियों ने अपनी सुइकारोक्ति बयान में पुलिस को बताया कि जेल बंद सजायाफ्ता अपराधी शैलेन्द्र महतो और शंकर महतो द्वारा अनिल की हत्या को लेकर एक लाख की सुपारी दी गयी थी। वही स्थानीय रंजीत कुमार के माध्यम से घटना से पहले 10 हजार और घटना के बाद 30 हजार रुपये भी अपराधियो ने प्राप्त किये थे। बता दें की बीते 28 जनवरी को सोनबरसा मुजफ्फरपुर पथ एनएच-77 को समीप मटियार सड़क पर अनिल कि गोली मार हत्या कर दी गयी थी। इससे पूर्व 2011 में मृतक के भाई नन्नू महतो कि भी कोचिंग संचालन करने के दौरान अपराधियो द्वारा गोली मार हत्या कर दी गई थी।

Also Read

-sponsored-

घटना के बारे में बताया जाता है कि मामल दशकों पूर्व का है। जब मटियार वार्ड नंबर4 स्थित अनिल महतो के घर के समीप पप्पू राउत नामक किसी व्यक्ति का नास्ते की दुकान थी। जहां स्थानीय तीन लोग कमल, अशोक और राकेश नामक व्यक्तियों को पप्पू से विवाद हो गया था। जिसमे अनिल का भाई नन्नू महतो गवाही पर तीनों लोगो को जेल हो गई थी। वही कुछ दिन 2011 में अपराधियों द्वारा नन्नू के कोचिंग में घुस उसकी हत्या कर दी गई थी। जिसमे अनिल गवाह बना था। जिसकी भी हत्या कर दी गई है। पुलिस मामले की जाँच में जुट गई है।

 

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.