By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

शरजील के छोटे भाई को हिरासत में लेकर पुलिस कर रही है पूछताछ

Above Post Content

- sponsored -

असम को भारत से अलग करने के विवादित बयान को लेकर शरजील इमाम (Sharjeel Imam) के खिलाफ पुलिस का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है. पुलिस ने शरजील के जहानाबाद (Jehanabad)  स्थित पैतृक घर पर छापा मारकर उसके छोटे भाई को हिरासत (Police Custody) में ले लिया है.

Below Featured Image

-sponsored-

शरजील के छोटे भाई को हिरासत में लेकर पुलिस कर रही है पूछताछ

सिटी पोस्ट लाइव : असम को भारत से अलग करने के विवादित बयान को लेकर शरजील इमाम (Sharjeel Imam) के खिलाफ पुलिस का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है. पुलिस ने शरजील के जहानाबाद (Jehanabad)  स्थित पैतृक घर पर छापा मारकर उसके छोटे भाई को हिरासत (Police Custody) में ले लिया है. पुलिस उससे पूछताछ कर शर्जील के बारे में जानकारी लेने की कोशिश में जुटी है. पुलिस ने एक दुसरे शख्‍स को भी हिरासत में लिया है. गौरतलब है कि शरजील इमाम का एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें वह असम को भारत से काटने की बात कहता हुआ दिख रहा है. उसके तलाश में बिहार समेत अन्‍य प्रदेशों में पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है.

शरजील का परिवार जहानाबाद के काको थाना क्षेत्र में रहता है. शरजील को दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून और NRC को लेकर हो रहे विरोध-प्रदर्शन का सूत्रधार माना जा रहा है. इससे पहले शरजील की मां अफशां रहीम ने मीडिया को एक बयान जारी किया था. इसमें उसकी मां ने पुलिस पर परेशान करने का आरोप लगाया है. उन्होंने उनके बेटे शरजील के बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश करने की भी बात कही है.

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

शरजील की मां अफशां रहीम ने बयान में लिखा था कि शरजील इमाम को उस बयान के लिए प्रताड़ित किया जा रहा है, जिसे मीडिया ने तोड़-मरोड़ कर पेश किया है. अब इसके लिए पुलिस उसके परिवार को परेशान कर रही है. परिजनों ने धमकी और दुर्व्यवहार के अलावा डराने की बात भी कही थी.जहानाबाद एसपी के अनुसार केंद्रीय जांच एजेंसियों ने पुलिस से इस मामले में सहयोग मांगा था.

जेएनयू छात्र शरजील इमाम का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वो कहता दिख रहा है, ‘हमारे पास संगठित लोग हों तो हम असम से हिंदुस्तान को हमेशा के लिए अलग कर सकते हैं.वीडियो में शरजील ने आगे कहा था, ‘परमानेंटली नहीं तो एक-दो महीने के लिए असम को हिंदुस्तान से कट ही सकते हैं. रेलवे ट्रैक पर इतना मलबा डालो कि उनको एक महीना हटाने में लगेगा…जाना हो तो जाएं एयरफोर्स से. असम को काटना हमारी जिम्मेदारी है.’ जानकारी के अनुसार, शरजील इमाम ने यह भाषण अलीगढ़ यूनिवर्सिटी में दिया था. इस मामले में उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 124ए, 153ए , 153बी, 505, सब सेक्शन 2 में मामला दर्ज किया गया है. अलीगढ़ के अलावा शरजील इमाम के खिलाफ कई राज्यों में केस दर्ज किया गया है.

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.