By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

रांची पुलिस ने फर्जी वेबसाइट के माध्यम से ठगी के धंधे का किया खुलासा

Above Post Content

- sponsored -

रांची पुलिस ने फर्जी वेबसाइट के माध्यम से ठगी के धंधे का खुलासा करते हुए तीन साइबर अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

Below Featured Image

-sponsored-

रांची पुलिस ने फर्जी वेबसाइट के माध्यम से ठगी के धंधे का किया खुलासा

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: रांची पुलिस ने फर्जी वेबसाइट के माध्यम से ठगी के धंधे का खुलासा करते हुए तीन साइबर अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। गिरफ्तार साइबर अपराधी भारत सरकार और राज्य सरकार की अलग-अलग योजनाओं का लाभ दिलाने के नाम पर ठगी करते थे।

रांची के वरीय पुलिस अधीक्षक अनीश गुप्ता के निर्देश पर पुलिस ने रांची के बरियातू थाना क्षेत्र के समीप इंद्रप्रस्थ कॉलोनी के तुलसी मार्केट में छापेमारी कर तीन युवकों को गिरफ्तार कर लिये। गिरफ्तार आरोपी किराये के मकान में रह कर ठगी का धंधा करते थे। इनके पास से भारत सरकार, राज्य सरकार, बजाज फाइनेंस, उज्ज्वला योजना से संबंधित कई कागजात, स्टांप, मोहर, लैपटॉप ठगी के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला डायलॉग लिखी हुई कॉपी बरामद किए गए। गिरफ्तारं आरोपियो ने पुलिस के पूछताछ में बताया की इनके गिरोह के सरगना नवादा जिले का रहने वाला गौतम ईस्माइली है। वह ठगी के लिए अंतरराज्यीय स्तर पर ठगी का गिरोह चलाता है। हालांकि वह मौके से फरार मिला। पुलिस उसकी तलाश कर रही है मामले में बरियातू इंस्पेक्टर सपन कुमार महता के बयान पर बरियातू थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है।

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

गिरफ्तार युवकों की पहचान नवादा जिला के काशीचक थाना क्षेत्र के वीरनामा निवासी रोहित राम, झारखंड के लातेहार जिला के चंदवा निवासी प्रकाश कुमार और पूर्वी सिंहभूम के बागबेड़ा मथुरा सेठ के समीप का रहने वाला सौरभ कुमार के रूप में की गयी है, जबकि गिरोह का सरगना गौतम इस्माइली, विक्की कुमार, नीतीश कुमार राम, राकेश कुमार व दो अन्य अज्ञात अपराधी फरार हैं। सभी की पुलिस तलाश कर रही है। बताया गया है कि साइबर अपराधियों ने बजाज फाइनेंस और एलपीजी वितरक एजेंसी के नाम पर वेबसाइट बना रखा था। इन्हें वेबसाइट का हवाला देकर लोगों से अपने अकाउंट पर पैसे मंगाया करते थे। साइबर अपराधी लोगों को कॉल कर बताते थे कि उन्हें मुफ्त में उज्ज्वला योजना के तहत गैस दिया जाएगा। भारत सरकार की अलग-अलग योजनाएं दी जाएगी और बजाज फाइनेंस के तहत लोन मुहैया कराया जाएगा। इसके लिए राजवीर रंजन समीर राज और कुंदन कुमार के अकाउंट में पैसे मंगाते थे। इन अकाउंट का संचालन गिरोह का सरगना गौतम इस्माइली करता था। पुलिस संबंधित खातों का भी पता लगा रही है।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.