By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

रिम्स के मेडिकल स्टूडेंट के साथ रैगिंग, घटना की जानकारी रांची यूनिवर्सिटी को भी नहीं

Above Post Content

- sponsored -

रिम्स में एमबीबीएस फर्स्ट इयर में पढ़ रहे  स्टूडेंट के साथ रैगिंग का मामला सामने आया है। रैगिंग की घटना की जानकारी रांची यूनिवर्सिटी को भी नहीं थी। जब यूजीसी का लेटर मिला तो यूनिवर्सिटी प्रशासन को सूचना मिली। इसके बाद जांच के लिए कमेटी गठित करने की प्रक्रिया शुरू हुई।

Below Featured Image

-sponsored-

रिम्स के मेडिकल स्टूडेंट के साथ रैगिंग, घटना की जानकारी रांची यूनिवर्सिटी को भी नहीं

सिटी पोस्ट लाइव : रिम्स में एमबीबीएस फर्स्ट इयर में पढ़ रहे  स्टूडेंट के साथ रैगिंग का मामला सामने आया है। रैगिंग की घटना की जानकारी रांची यूनिवर्सिटी को भी नहीं थी। जब यूजीसी का लेटर मिला तो यूनिवर्सिटी प्रशासन को सूचना मिली। इसके बाद जांच के लिए कमेटी गठित करने की प्रक्रिया शुरू हुई। सीनियर स्टूडेंट्स द्वारा बार-बार प्रताड़ित किए जाने के बाद छात्र ने यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (यूजीसी) की एंटी रैगिंग सेल से शिकायत की थी। इसके बाद सेल द्वारा रांची यूनिवर्सिटी को पत्र को भेजकर मामले की जांच करने के लिए कहा है। साथ ही कार्रवाई से अवगत कराने का निर्देश दिया है। यूजीसी का पत्र मिलने पर आरयू के डीएसडब्ल्यू सेक्शन द्वारा मामले की जांच के लिए कमेटी गठित करने के लिए फाइल बढ़ा दी गई है।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.