By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

झारखंड के रामगढ़ में RPF जवान ने 5 लोगों को मारी गोली, 3 की मौत

- sponsored -

बरकाकाना ओपी अंतर्गत रेलवे कॉलोनी में शनिवार की देर शाम शराब के नशे में धुत आरपीएफ जवान पवन कुमार सिंह ने एक रेलकर्मी के परिवार के पांच लोगों को घर में घुसकर गोली मार दी. सभी को आनन-फानन में स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां रेलकर्मी अशोक राम की पत्नी लीला देवी की मौत हो गई.

झारखंड के रामगढ़ में RPF जवान ने 5 लोगों को मारी गोली, 3 की मौत

रामगढ़, झारखण्ड ,सिटी पोस्ट लाइव : झारखण्ड के रामगढ़ के  बरकाकाना रेलवे कॉलोनी में शराब के नशे में धुत एक आरपीएफ जवान ने पांच लोगों को गोली मार दी. खबर के अनुसार दूध नहीं देने को लेकर हुए विवाद के बाद आरपीएफ जवान ने पांच लोगों को गोली मार दी .रामगढ़ संवाददाता के अनुसार  जिले के बरकाकाना ओपी अंतर्गत रेलवे कॉलोनी में शनिवार की देर शाम शराब के नशे में धुत आरपीएफ जवान पवन कुमार सिंह ने एक रेलकर्मी के परिवार के पांच लोगों को घर में घुसकर गोली मार दी. सभी को आनन-फानन में स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां रेलकर्मी अशोक राम की पत्नी लीला देवी की मौत हो गई. बाद में रेलकर्मी अशोक की रांची रोड स्थित होप हॉस्पिटल में मृत्यु हो गई.

रेलकर्मी की गर्भवती बड़ी पुत्री मीना देवी की इलाज के लिए रांची ले जाने के क्रम में रास्ते में मौत हो गई. इधर, हत्यारे जवान की गिरफ्तारी की मांग को लेकर महिलाओं ने रांची रोड स्थित होप हॉस्पिटल के सामने एनएच 33 को जाम कर दिया. आरपीएफ जवान की गोली से रेलकर्मी अशोक राम की मंझली पुत्री सुमन देवी, पुत्र संजय राम उर्फ चिंटू गंभीर रूप से घायल हैं.

Also Read

-sponsored-

दोनों घायलों को रांची रोड स्थित होप अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए रिम्स रेफर कर दिया गया है. मृतक अशोक राम भुरकुंडा रेलवे स्टेशन में पोर्टर के रूप में कार्यरत थे. मृतक लीला देवी रामगढ़ उपायुक्त कार्यालय में आउटसोर्सिंग पर सफाईकर्मी के रूप में कार्य करती थीं.

सूचना पाकर रामगढ़ एसपी प्रभात कुमार बरकाकाना स्थित घटनास्थल पर पहुंचे और घायलों को होप अस्पताल पहुंचाया. रेलकर्मी अशोक राम के घर को पुलिस ने सील कर दिया है. आरोपित आरपीएफ के जवान को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी जारी है.

घायल रेलकर्मी के पुत्र संजय राम व छोटी पुत्री प्रियंका कुमारी ने पुलिस को बताया कि आरपीएफ जवान पवन कुमार सिंह शराब के नशे में धुत होकर रात में करीब सवा आठ बजे उनके घर में दूध मांगने आया. पिता ने कहा कि दूध नहीं बचा है. इसी बात पर आरपीएफ जवान ने गाली देना शुरू कर दिया –और गोलीबारी शुरू कर दी.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.