By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

जहानाबाद में बंदी की मौत के बाद बवाल, भगदड़ में महिला सिपाही की गई जान

HTML Code here
;

- sponsored -

जहानाबाद में उस वक्त अफरा तफरी का माहौल कायम हो गया, जब एक कैदी की मौत की सूचना के बाद ग्रामीण सड़क जाम कर बवाल मचाने लगे. जानकारी अनुसार जहानाबाद जिले के मंडल कारा में एक बंदी की मौत हो गई.

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : जहानाबाद में उस वक्त अफरा तफरी का माहौल कायम हो गया, जब एक कैदी की मौत की सूचना के बाद ग्रामीण सड़क जाम कर बवाल मचाने लगे. जानकारी अनुसार जहानाबाद जिले के मंडल कारा में एक बंदी की मौत हो गई. मृतक नाम रतनी प्रखंड के सरता गांव निवासी गोविंद मांझी है. गोविंद मांझी की मौत की सूचना मिलने के बाद ग्रामीणों ने निहालपुर के समीप एनएच 110 को जाम कर दिया. परिजनों का आरोप था कि इलाज में कोताही बरतने कारण ही गोविंद मांझी की मौत हुई है. इस मौत के पीछे जेल प्रशासन की गलती है. जिसे लेकर ग्रामीण आक्रोशित थे.

इस बात की जानकारी जब पुलिस को मिली कि ग्रामीण बंदी की मौत से गुस्साए एनएच जाम किए हुए है, तो आक्रोशितों को शांत कराने के लिए पुलिस पहुंची. लेकिन पुलिस को देखकर ग्रामीण और भड़क गए.  ग्रामीणों ने पुलिस टीम पर ईंट-पत्थर से हमला कर दिया. इस क्रम में आधे दर्जन पुलिसकर्मी भी घायल हो गए. पुलिस ने हालात बिगड़ते देख प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों पर लाठीचार्ज किया. इस दौरान पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए तीन राउंड हवाई फायरिंग भी की.

इस दौरान भागने के क्रम में महिला सिपाही कांति देवी एक वाहन की चपेट में आ गई और उनकी मौत हो गई. महिला सिपाही खगड़िया की रहने वाली है और पुलिस लाइन में तैनात थी. एसडीपीओ अशोक कुमार पांडेय ने बताया कि ग्रामीणों के पथराव और फायरिंग का पुलिस ने जवाब दिया और तीन राउंड हवाई फायरिंग भी की.

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.