By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बेगूसराय : सावन की अंतिम सोमवारी को लेकर श्रद्धालुओं की उमड़ी भीड़

;

- sponsored -

बेगूसराय जिले में सावन की अंतिम सोमवारी को लेकर बछवाड़ा झमटिया धाम गंगा घाट पर गंगा स्नान के लिए कांवरियों का हुजूम उमड़ पड़ा। गंगा स्नान के लिए आने वाले कांवरियों की भीड़ से बछवाड़ा जंक्शन से झमटिया धाम गंगा घाट समेत प्रखंड क्षेत्र की सभी सड़कें पर भीड़ है।

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

बेगूसराय : सावन की अंतिम सोमवारी को लेकर श्रद्धालुओं की उमड़ी भीड़

सिटी पोस्ट लाइव : बेगूसराय जिले में सावन की अंतिम सोमवारी को लेकर बछवाड़ा झमटिया धाम गंगा घाट पर गंगा स्नान के लिए कांवरियों का हुजूम उमड़ पड़ा। गंगा स्नान के लिए आने वाले कांवरियों की भीड़ से बछवाड़ा जंक्शन से झमटिया धाम गंगा घाट समेत प्रखंड क्षेत्र की सभी सड़कें पर भीड़ है। पूरे क्षेत्र का माहौल ओम नम: शिवाय, हर हर महादेव के उदघोष से गुंजायमान होते रहा। विदित हो कि प्रत्येक वर्ष सावन के महीने में लाखों श्रद्धालु झमटिया धाम गंगा घाट पर स्नान कर जल भरते हैं और गढ़पुरा के हरिगिरिधाम, समस्तीपुर के धनेश्वर धाम समेत अन्य शिवालयों में जलार्पण के लिए जाते हैं।

जिसमें सावन की अंतिम सोमवारी के पूर्व रविवार की सुबह से लेकर पूरी रात तक कांवरिया स्नान कर गंगा जल भरते हैं। कांवरियों की भीड़ को देखते हुए पूरे बछवाड़ा इलाके में जगह-जगह कांवरियों की सेवा के लिए निश्शुल्क पंडाल लगाए गए हैं। जहां पानी, दवा एवं अन्य सुविधा मुहैया कराई गई। वहीं पूरे बछवाड़ा बाजार दुल्हन की तरह सजाया गया है। दूसरी तरफ कांवरियों की भीड़ को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त देखी गई।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

कांवरियों की सुरक्षा के लिए जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए गए । सुरक्षा के मद्देनजर झमटिया घाट पर वाच टावर भी बनाये गए हैं। कांवरियों के मनोरंजन के लिए कई जगहों पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया। घाट पर किसी अनहोनी से निपटने के लिए पर्याप्त मात्रा में एसडीआरएफ एवं गोताखोरों की टीम को बुलाया गया , जो नाव से नदी में नजर रख रहे है। वही तेघरा डीएसपी आशीष आनंद ने बताया कि जिले के पुलिस बल भारी संख्या में ड्यूटी पर तैनात है। चप्पे-चप्पे पर नजर रखी जा रही है प्रत्येक वर्ष से पहले इस बार श्रद्धालुओं की भीड़ काफी ज्यादा है।

बेगूसराय से जीवेश तरुण की रिपोर्ट

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.