By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

वित्त मंत्री बोली- नहीं डूबेगा यस बैंक के खाताधारकों का एक भी पैसा, निकालें 5 लाख तक रकम

Above Post Content

- sponsored -

वित्तीय संकट से घिरे निजी क्षेत्र के यस बैंक के खाता धारकों को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भरोसा दिया है। वित्त मंत्री ने खाता धारकों को आश्वस्त किया है कि उनका पैसा नहीं डूबेगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कहा कि यस बैंक के मुद्दे को रिजर्व बैंक और सरकार विस्तृत तौर पर देख रही है।

Below Featured Image

-sponsored-

वित्त मंत्री बोली- नहीं डूबेगा यस बैंक के खाताधारकों का एक भी पैसा, निकालें 5 लाख तक रकम

सिटी पोस्ट लाइव : वित्तीय संकट से घिरे निजी क्षेत्र के यस बैंक के खाता धारकों को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भरोसा दिया है। वित्त मंत्री ने खाता धारकों को आश्वस्त किया है कि उनका पैसा नहीं डूबेगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कहा कि यस बैंक के मुद्दे को रिजर्व बैंक और सरकार विस्तृत तौर पर देख रही है। हमने वह रास्ता अपनाया है जो सबके हित में होगा। रिजर्व बैंक ने भरोसा दिलाया है कि यस बैंक के किसी भी ग्राहक को कोई नुकसान नहीं होगा।

वित्त मंत्री ने कहा कि मैं भरोसा दिलाना चाहती हूं कि यस बैंक के हर जमाकर्ता का धन सुरक्षित है, मैं रिजर्व बैंक के साथ लगातार संपर्क में हूं। उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक एक नियामक के तौर पर यस बैंक के मुद्दे का तेजी से समाधान करने की दिशा में काम कर रहा है, यह कदम जमाकर्ताओं, बैंक और अर्थव्यवस्था के हित में उठाए गए हैं।

Also Read

-sponsored-

दरअसल यस बैंक के द्वारा एक महीने की निकासी की लिमिट को 50 हजार तय करने के बाद ग्राहकों के बीच हड़कंप मच गया। लोग परेशान होने लगे कि अगर ऐसा हुआ तो हमारे पैसे बैंक में फंस जाएंगे। साथ ही अगर कोई इमरजेंसी आ गई, तो उस स्थिति में हम क्या कर सकते हैं? इस प्रश्न नें लोगों के रातों की नींद उड़ा दी। लेकिन इमरजेंसी की स्थिति में अब लोगों को घबराने की जरुरत नहीं हैं।

आरबीआई ने यस बैंक के ग्राहकों की परेशानी को कम करते हुए ऐलान किया है कि अब वो इमरजेंसी की स्थिति में 5 लाख तक की रकम अपने खाते से निकाल सकते हैं। इन इमरजेंसी में मेडिकल इमरजेंसी, शादी और एजुकेशन की फीस जैसे मामले शामिल हो सकते हैं। लेकिन आरबीआई ने शर्त रखी है कि इन मामलों के लिए ग्राहकों को ठोस सबूत भी दिखाने पड़ेंगे।

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.