By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

देश की सबसे बड़ी बिस्किट कंपनी पर GST की मार, 10 हजार कर्मचारियों पर लटकी तलवार

- sponsored -

बचपन से जिस कंपनी की एक बिस्किट का नाम लोगों को याद है, वो है पार्ले-जी. शुरूआती दिनों से पार्ले-जी मात्र तीन रूपये में लोगों को बिस्किट मुहैया करा रही है. जहां पहले इसका वजन ज्यादा था, लेकिन महंगाई के कारण वजन अब कम कर दिया गया.

देश की सबसे बड़ी बिस्किट कंपनी पर GST की मार, 10 हजार कर्मचारियों पर लटकी तलवार

सिटी पोस्ट लाइव : बचपन से जिस कंपनी की एक बिस्किट का नाम लोगों को याद है, वो है पार्ले-जी. शुरूआती दिनों से पार्ले-जी मात्र तीन रूपये में लोगों को बिस्किट मुहैया करा रही है. जहां पहले इसका वजन ज्यादा था, लेकिन महंगाई के कारण वजन अब कम कर दिया गया. फिर भी इसके दाम में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई. लेकिन अब निर्माता कंपनी पार्ले प्रोडक्ट्स पर भी आर्थिक मंदी की मार पड़ने जा रही है. पार्ले कंपनी मंदी की मार की वजह से अपने 8 से 10 हजार कर्मचारियों की छंटनी भी कर सकता है. कंपनी ने इस मामले पर कहा कि अगर कंपनी की खपत पर इसी तरह मंदी बनी रही तो उन्हें अपने कर्मचारियों को निकालना पड़ेगा.

स मुद्दे पर कंपनी के कैटेगरी हेड मयंक शाह का कहना है कि ‘हमने सरकार से अपील की थी कि 100 रुपए प्रति किलोग्राम से कम कीमत पर बिकने वाले बिस्किट पर लगा GST कम कर दिया जाए. ये बिस्किट 5 रुपए और उससे कम की दाम पर बिकते हैं, लेकिन अगर सरकार हमारी इस अपील को नहीं मानेगी तो हमारे पास 8,000 से 10,000 लोगों को नौकरी से निकालने के अलावा कोई और चारा नहीं बचेगा.’ गौरतलब है कि सालाना 10,000 करोड़ से ज्यादा की बिक्री करने वाली कंपनी पार्ले पार्ले-जी, मोनाको और मारी जैसे फेमस ब्रांड के बिस्किट प्रोडक्ट्स बनाती है. कंपनी में एक लाख कर्मचारी काम करते हैं और कंपनी के देशभर में 10 प्लांट्स हैं. पार्ले के प्रोडक्ट्स की सबसे ज्यादा खपत गांवों में होती है.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.