By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

कश्मीर की खूबसूरत घाटी में घर खरीदना हैं तो जान लीजिये कितने का है एक प्लॉट

;

- sponsored -

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

कश्मीर की खूबसूरत घाटी में घर खरीदना हैं तो जान लीजिये कितने का है एक प्लॉट

सिटी पोस्ट लाइव : अब तक सिर्फ़ ‘स्थायी नागरिक’ का दर्जा प्राप्त कश्मीरी ही कश्मीर में ज़मीन ख़रीद सकते थे.यानी जम्मू-कश्मीर के लोग तो भारत भर में कहीं भी जमीन-घर खरीद सकते थे लेकिन कोई भारतीय जम्मू-कश्मीर में जमीन नहीं खरीद सकता था. लेकिन अब धारा 370 हटने के बाद सबकुछ बदल जाएगा.वहां अभ कोई भी भारतीय घर और जमीन खरीद सकता है. यानी उन सभी लोगों के लिए कश्मीर में ज़मीन ख़रीदने का रास्ता खुल जाएगा जिनके पास ‘स्थायी नागरिक’ का दर्जा नहीं है.

अनुच्छेद 370 के प्रावधान खत्म किए जाने के बाद जम्मू कश्मीर लगातार चर्चा में है और तमाम तरह की राजनीतिक खबरें सुर्खियों में बनी हुई हैं. लेकिन ऐसे लोगों की कमी भी नहीं है जो कश्मीर में अपना घर जमीन खरीदना चाहते हैं. लोग कश्मीर में प्रॉपर्टी यानी रियल एस्टेट का क्या गणित समझने के लिए गूगल पर खूब सर्च कर रहे हैं.सिटी पोस्ट आपको बता रहा है पिछले कुछ सालों से श्रीनगर में आवासीय प्रॉपर्टी की मांग बहुत बढ़ी है. मकान, प्लॉट, विला, फार्म हाउस, कमर्शियल दुकानों को लेकर खास तौर से लोग दिलचस्पी ले रहे हैं. कहा जा रहा है कि श्रीनगर में हर वर्ग के खरीदार के लिए प्रॉपर्टी के विकल्प मौजूद हैं.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर सोशल मीडिया पर कश्मीर में प्रॉपर्टी और उसकी कीमतों को लेकर चर्चा की जा रही है. इस चर्चा के पीछे कारण यह है कि कश्मीर का विशेष राज्य दर्जा खत्म होने के बाद दूसरे राज्यों के लोग भी यहां संपत्ति ले सकेंगे.कश्मीर की राजधानी और ड्रीम सिटी कहे जाने वाले श्रीनगर ज़िला प्रशासन के पोर्टल पर 2019-20 के लिए शहरी प्लॉट की मार्केट वैल्यू को लेकर एक सर्कुलर जारी किया जा चुका है. इस सर्कुलर के मुताबिक श्रीनगर ज़िले के विभिन्न हिस्सों में विभिन्न तरह की प्रॉपर्टी को लेकर मार्केट वैल्यू का हिसाब दिया गया है. मसलन, श्रीगनर की उत्तर तहसील के शालीमार में कीमतें कुछ इस तरह हैं. यहां आवासीय प्लॉट की मार्केट वैल्यू 52.50 लाख रुपये प्रति कनाल है जबकि कमर्शियल के लिए 97 लाख रुपये प्रति कनाल है. इसी तरह, उत्तर तहसील में ग्रामीण प्लॉट के लिए मार्केट वैल्यू सैदपुरा में आवासीय के लिए 15.75 लाख रुपये प्रति कनाल और कमर्शियल के लिए 17.85 लाख रुपये प्रति कनाल है.

इसी तरह जम्मू व कश्मीर के हर ज़िला प्रशासन का एक अलग पोर्टल है, जहां इस तरह के सर्कुलर जारी किए गए हैं. अनंतनाग में 2018-19 के लिए शहरी प्लॉट की मार्केट वैल्यू संबंधी सर्कुलर है, जिसमें अलग अलग कॉलोनियों के हिसाब से कीमतें दर्शाई गई हैं. उदाहरण के तौर पर पहलगाम नगरपालिका के तहत पहलगाम लोअर फ्रंट साइड पर रेज़िडेंशियल प्लॉट की मार्केट वैल्यू 81.20 लाख प्रति कनाल है जबकि कमर्शियल की 92 लाख प्रति कनाल.

इसी तरह जम्मू के सब डिविज़न अखनूर में ग्रामीण क्षेत्रों में ज़मीनों के रेट संबंधी एक सर्कुलर पोर्टल पर है. इसके मुताबिक अखनूर खास के ग्रामीण इलाकों में एक रेज़िडेंशियल प्लॉट की मार्केट वैल्यू 24.71 लाख रुपये प्रति कनाल तक है और कमर्शियल की 36.85 लाख रुपये प्रति कनाल तक. विस्तार से जम्मू कश्मीर राज्य के ज़िलों की कीमतें जानने के लिए आप संबंधित ज़िला प्रशासन के पोर्टल पर लोड किए गए सर्कुलर देख सकते हैं.

इस सर्कुलर में ज़िलेवार ये बताया गया है कि ज़मीनों की कीमतों में पिछले साल या सालों की तुलना में कितना फर्क आया है. कहा गया है कि श्रीनगर की ज़िला वैल्यूएशन समिति ने पाया कि पिछले साल 2018-19 की तुलना में इस साल ज़मीनों की कीमतों में 5 फीसदी तक का इज़ाफ़ा हुआ है. इस इज़ाफ़े की रिपोर्ट पर संवाद एवं विचार करने के बाद बोर्ड ने नये प्रस्ताव तय किए हैं. वहीं, कुपवाड़ा में ज़मीनों की कीमतें पिछले साल के मुकाबले 7 और पुलवामा व अनंतनाग में 6 फीसदी तक बढ़ी हैं.

जम्मू कश्मीर सहित कुछ और राज्यों में ज़मीनें मापने के लिए कनाल और मार्ला इकाइयों का इस्तेमाल किया जाता है. 1 कनाल 510 वर्गमीटर के बराबर होता है.यानी 1 कनाल 5400 वर्गफीट और 605 वर्ग यार्ड के बराबर होता है. 1 कनाल में 20 मार्ला शामिल होते हैं. इस हिसाब से पहले बताए गए श्रीनगर के शालीमार में आवासीय प्लॉट की मार्केट वैल्यू 52.50 लाख रुपये प्रति 5400 वर्गफीट है. यानी 1000 वर्गफीट का आवासीय प्लॉट यहां करीब 9 लाख 73 हज़ार रुपये का है.

तो हो जाइए तैयार जम्मू कश्मीर में अपना एक घर या फिर प्लाट लेने के लिए क्योंकि बहुत जल्द कश्मीर में अपना घर होने का आपका सपना साकार होनेवाला है. कानूनी प्रक्रिया में बदलाव में थोडा समय जरुर लगेगा .सरकार की कोशिश है कि जल्द से भारत के कोने कोने से लोग कश्मीर में अपना घर जमीन खरीदने पहुंचे ताकि कश्मीर का नक्षा बदल जाएगा.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.