By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बिहार में कमजोर पड़ा मानसून, एकसाथ बाढ़-सूखे का खतरा बढ़ा

मानसून कमजोर पड़ने से बारिश भी कम हो रही है जिससे किसानों की चिंता बढ़ती जा रही है.

Above Post Content

- sponsored -

10 और 11 जुलाई तक तेज धूप निकलने से गर्मी और उमस बढने की संभावना है. कुछ जगहों पर 12 जुलाई को बारिश होने के आसार हैं. मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण-पश्चिम मानसून बिहार के दक्षिणी हिस्से, झारखंड और पश्चिम बंगाल तक सक्रिय है. सोमवार को दक्षिण और पश्चिम बिहार के कुछ हिस्से में मामूली बूंदाबांदी हो सकती है.

Below Featured Image

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : इस साल बिहार को बाढ़ और सुखाद दोनों का सामना एकसाथ करना पड़ेगा.एक तरफ कोशी ईलाके की नदियों में नेपाल से आनेवाले पानी की वजह से उफान आया हुआ है. वहीं  राजधानी पटना समेत सहित पूरे प्रदेश में मानसून कमजोर पड़ जाने से सूखे का खतरा बढ़ गया है. 10 और 11 जुलाई तक तेज धूप निकलने से गर्मी और उमस बढने की संभावना है. कुछ जगहों पर 12 जुलाई को बारिश होने के आसार हैं. मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण-पश्चिम मानसून बिहार के दक्षिणी हिस्से, झारखंड और पश्चिम बंगाल तक सक्रिय है. सोमवार को दक्षिण और पश्चिम बिहार के कुछ हिस्से में मामूली बूंदाबांदी हो सकती है. गंगा के तटीय और उत्तर बिहार में बादल छाए रहेंगे.

रविवार को पटना समेत पुरे  प्रदेश में लोग बारिश का इंतज़ार करते रहे. भागलपुर 1.2 एमएम, बिहपुर में 4 एमएम, पूसा में 4 एमएम और किशनगंज में 3 एमएम बारिश रिकॉर्ड किया गया. पटना में सुबह से बादल छाए रहने के कारण अधिकतम तापमान 37.7 डिग्री और न्यूनतम 28.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. गया का अधिकतम तापमान 35.8 डिग्री और न्यूनतम 28 डिग्री सेल्सियस रहा. भागलपुर का अधिकतम 37 डिग्री और न्यूनतम 27 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. पूर्णिया का अधिकतम तापमान 36 डिग्री और न्यूनतम 27.7 डिग्री सेल्सियस रहा.बारिश नहीं होने के कारण लोग गर्मी से बेहाल रहे.मौसम विभाग द्वारा जारी साप्ताहिक पूर्वानुमान में अनुसार 12 और 13 जुलाई को कुछ जगहों पर बारिश होने के आसार हैं.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.