By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

2024 तक पटना में मेट्रो, 15 अगस्त से ‘हरियाली मिशन’,टिक-टॉक वीडियो बनाने के चक्कर में

- sponsored -

511 करोड़ रुपये लेकर डीएमआरसी पटना मेट्रो के निर्माण को अमलीजामा पहनाएगी. बोर्ड ने वर्ष 2024 तक मेट्रो का निर्माण कार्य पूरा करने लक्ष्य तय किया है. सीएमडी ने बताया कि राजधानी में मेट्रो दौड़ाने के लिए जापान की वित्तीय संस्था जाइका (जापान इंटरनेशनल को-ऑपरेशन एजेंसी) लोन देगी.

-sponsored-

2024 तक पटना में मेट्रो, 15 अगस्त से ‘हरियाली मिशन’,टिक-टॉक वीडियो बनाने के चक्कर में

सिटी पोस्ट लाइव : डीएमआरसी ने सबसे सस्ते दर पर पटना मेट्रो के लिए निर्माण की मंजूरी दे दी है.पटना मेट्रो रेल कॉरपोरेशन बोर्ड के सीएमडी चैतन्य प्रसाद के अनुसार 511 करोड़ रुपये लेकर डीएमआरसी पटना मेट्रो के निर्माण को अमलीजामा पहनाएगी. बोर्ड ने वर्ष 2024 तक मेट्रो का निर्माण कार्य पूरा करने लक्ष्य तय किया है. सीएमडी ने बताया कि राजधानी में मेट्रो दौड़ाने के लिए जापान की वित्तीय संस्था जाइका (जापान इंटरनेशनल को-ऑपरेशन एजेंसी) लोन देगी.

इसबार का स्वतन्त्र दिवस बिहार के लिए ख़ास होगा .मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 15 अगस्त से ‘जल-जीवन-हरियाली’ कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे. इस महत्वपूर्ण अभियान की जानकारी आम लोगों को देने के लिए 9 अगस्त से जागरूकता अभियान चलाया जाएगा. मुख्यसचिव दीपक कुमार ने बुधवार को बताया कि आज के समय में जब पूरा विश्व ग्लोबल वार्मिंग की चपेट में है और देश दुनिया में लगातार गर्मी और भीषण बारिश का कहर बरप रहा है तो ऐसे समय में ‘जल-जीवन हरियाली’ की महत्ता और बढ़ जाती है.

Also Read

-sponsored-

मुख्य सचिव दीपक कुमार के अनुसार 9 अगस्त को जिला से लेकर प्रखंड तक जागरूकता अभियान चलेगा. इस दौरान जिलों में अफसरों से लेकर मंत्री, सांसद, पंचायत प्रतिनिधि और जीविका दीदी को जल-जीवन-हरियाली के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी. उन्होंने यह भी बताया कि सूखे की स्थिति की समीक्षा के लिए स्वयं मुख्यमंत्री ने 18 अगस्त को प्रभावित जिलों के साथ बैठक का फैसला किया है.

मुजफ्फरपुर के संगमघाट से उत्तर माधोपुर मिठनसराय कोल्हुआ में बुधवार सुबह नहाने गए तीन छात्र डूब गए, जबकि एक ने किसी तरह जान बचा ली. बताया जा रहा है कि टिक-टॉक वीडियो बनाने के दौरान सभी डूब गए. घटना की जानकारी मिलते ही अहियापुर थाना के साथ एसडीआरएफ की टीम संगम घाट पहुंची और लापता छात्रों को खोजने में जुट गई. लिस छानबीन में पता लगा कि चारों छात्र ब्रह्मपुरा राहुलनगर के रहने वाले दसवीं कक्षा के छात्र हैं.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.