By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

“चुनाव विशेष” 29 अप्रैल को बेगूसराय में होगा मतदान, बिगड़े बोलों का भी जनता लेगी हिसाब

Above Post Content

- sponsored -

बिहार के बेगूसराय सीट पर चौथे चरण में 29 अप्रैल को चुनाव होना है। इस सीट पर चुनाव प्रचार के दौरान कई नेताओं ने अपना आपा खोया और गलत बयानबाजी की। बीजेपी के फायर ब्रांड प्रत्याशी गिरिराज सिंह ने एक बार फिर विवादित बड़ा बयान दिया।

Below Featured Image

-sponsored-

“चुनाव विशेष” 29 अप्रैल को बेगूसराय में होगा मतदान, बिगड़े बोलों का भी जनता लेगी हिसाब

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार के बेगूसराय सीट पर चौथे चरण में 29 अप्रैल को चुनाव होना है। इस सीट पर चुनाव प्रचार के दौरान कई नेताओं ने अपना आपा खोया और गलत बयानबाजी की। बीजेपी के फायर ब्रांड प्रत्याशी गिरिराज सिंह ने एक बार फिर विवादित बड़ा बयान दिया। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के सामने मंच से केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि अगर कब्र के लिए तीन गज जगह चाहिए तो, इस देश में वंदेमातरम् गाना होगा और भारत माता की जय कहना होगा। गिरिराज सिंह ने कहा कि आरजेडी के दरभंगा से उम्मीदवार अब्दुल बारी सिद्दकी कहते हैं कि वे वंदेमातरम् नहीं बोलेंगे। उन्होंने कहा कि बेगूसराय में भी कुछ लोग आकर बड़े भाई का कुर्ता और छोटे भाई का पायजामा पहनकर भ्रमण कर रहे हैं।

विशेष : बिहार के बेगूसराय सीट को मीडिया ने बनारस से भी ज्यादा हॉट सीट बनाया

Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

लेकिन मैं उन्हें कहना चाहता हूं कि जो वंदेमातरम् नहीं गा सकता, जो भारत की मातृभूमि को नमन नहीं कर सकता वो इस बात को याद रखें कि गिरिराज के नाना-दादा सिमरिया घाट में गंगा नदी के किनारे मरे, उसी भूमि पर कोई कब्र नहीं बनाया लेकिन तुम्हें तो तीन गज जगह चाहिए। तुम ऐसा नहीं कर पाओगे तो, देश तुम्हें कभी माफ नहीं करेगा। गौरतलब है कि बिहार के दरभंगा से महागठबंधन से आरजेडी के प्रत्याशी अब्दुल बारी सिद्दीकी ने कहा था कि उन्हें और उनके समर्थकों को वंदेमातरम् बोलने में परेशानी है। दरभंगा में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने नाथूराम गोडसे को देश का पहला आतंकवादी करार देते हुए कहा कि बीजेपी में हिम्मत है तो लगाए गोडसे मुर्दाबाद के नारे। साथ ही, उन्होंने यह भी कह दिया कि भारत माता की जय कहने में उन्हें कोई परेशानी नहीं है लेकिन वंदेमातरम् बोलने में परेशानी है।

Also Read

बेगूसराय में अमित शाह की रैली के दौरान गिरिराज सिंह ने कहा कि कुछ लोग बिहार की धरती को रक्तरंजित करना चाहते हैं। सांप्रदायिक आग फैलाना चाह रहे हैं लेकिन BJP जब तक है, ना बिहार में ऐसा हुआ और ना बेगूसराय की धरती पर वे कभी ऐसा होने देंगे। इस रैली के दौरान अमित शाह ने कहा कि भले उनके उम्मीदवार गिरिराज सिंह विकास को मुख्य मुद्दा मानते हैं, लेकिन विकास और गरीबी से ज्यादा बड़ा मुद्दा बेगूसराय के लोगों के लिए टुकड़े-टुकड़े गैंग को परास्त करना है। ये राष्ट्रकवि दिनकर की भूमि है। यहां राष्ट्रद्रोह की बात करने वालों के लिए कोई स्थान नहीं है। गिरिराज सिंह के इस बयान को लेकर चुनाव आयोग के निर्देश पर आचार संहिता उल्लंघन का केस भी दर्ज किया गया है।

बेगूसराय पहुंचे सीएम नीतीश, लोगों से कहा-‘ कांग्रेस ने कुछ नहीं किया, NDA को जिताईए’

कन्हैया के लिए जमकर प्रचार करने वाली शेहला रशीद ने कहा कि अमीर हिन्दू और मुसलमान दोनों मिलकर होटल में बीफ खाते हैं और शराब पीते हैं। इस बयान को लेकर भी गिरिराज सिंह ने शेहला रशीद को जमकर लताड़ा। शबाना आजमी और जावेद अख्तर को भी देश के भीतर असुरक्षा और बदला-बदला मंजर नजर आ रहा है। जावेद अख्तर का कहना है की भाजपा नकली राष्ट्रवादियों की पार्टी है। भाजपा आरएसएस का एक विंग है। शबाना आजमी को कन्हैया में पूरा हिंदुस्तान सिमटा दिख रहा है। बड़ा सवाल यह है कि राजनीति रोटी सेंकने के लिए नेता उन्मादी बयान देकर, जनता को आपस में लड़ने के लिए आखिर क्यों मजबूर करते हैं? ऐसे बयानवीरों पर सख्त कानूनी कारवाई की जरूरत है।

पीटीएन न्यूज मीडिया ग्रुप के सीनियर एडिटर मुकेश कुमार सिंह का चुनाव विश्लेषण

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.