By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

अनंत सिंह ने जिस अधिकारी की नींद उड़ाई, उसे मिल गई है सरकारी सुरक्षा

Above Post Content

- sponsored -

बिहार में मोकामा (Mokama Mla) के बाहुबली विधायक अनंत सिंह (Anant Singh) फरार हैं लेकिन उनका खौफ IPS अधिकारियों के भी सिर चढ़कर बोल रहा है.’छोटे सरकार’ के नाम से कुख्यात अनंत सिंह पर  बिहार के एक पूर्व आईपीएस (IPS)  अधिकारी अमिताभ वर्मा ने अपनी हत्या की शाजिश का आरोप लगाया है.

Below Featured Image

-sponsored-

अनंत सिंह ने जिस अधिकारी की नींद उड़ाई, उसे मिल गई है सरकारी सुरक्षा

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार में मोकामा (Mokama Mla) के बाहुबली विधायक अनंत सिंह (Anant Singh) फरार हैं लेकिन उनका खौफ IPS अधिकारियों के भी सिर चढ़कर बोल रहा है. ‘छोटे सरकार‘ के नाम से कुख्यात अनंत सिंह पर  बिहार के एक पूर्व आईपीएस (IPS)  अधिकारी अमिताभ वर्मा ने अपनी हत्या की शाजिश का आरोप लगाया है. उन्होंने अपनी जान की सुरक्षा के लिए डीजीपी (DGP) से गुहार लगाई थी.अब उन्हें पुलिस मुख्यालय की तरफ से दो सुरक्षाकर्मी दे दिए गए हैं.

गौरतलब है कि अनंत सिंह के घर से एके-47 (AK-47 Rifle) मिलने के बाद इस अधिकारी की नींदें उड़ गई है क्योंकि सबसे पहले इन्होने ही अनंत सिंह के पास पुरलिया आर्म्स ड्राप के हथियार होने की सूचना दी थी. अमिताभ दास ने अपनी सुरक्षा के लिए उस गोपनीय पत्र का हवाला दिया है जो उन्होंने 10 साल पहले यानि वर्ष 2009 में बिहार के निर्वाचन पदाधिकारी सुधीर कुमार राकेश को दी थी. इस रिपोर्ट में अनंत सिंह के घर पर अत्याधुनिक हथियारों का जखीरा होने की गोपनीय सूचना बिहार के तत्कालीन निर्वाचन पदाधिकारी सुधीर कुमार राकेश को दी थी.

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ ने डीजीपी को लिखे पत्र में कहा है कि 5 मार्च 2009 को मैंने मोकामा के विधायक अनंत सिंह के बारे में सूचना दी थी कि उनके लदमा (बाढ़) स्थित आवास में एके-47, एके-56 और लाइट मशीनगन सहित अवैध हथियारों का जखीरा है. इसके बाद 16 अगस्त 2019 को पूरे 10 वर्ष बाद माननीय विधायक के आवास पर पुलिस ने छापेमारी कर एके-47 बरामद किया. मेरी सूचना पुष्ट हुई. सत्यमेव जयते.’मुझे अब जान का खतरा सता रहा है. मुझे गोरखा जवानों की सुरक्षा मिलनी चाहिए.अब सुरक्षा मिल जाने से अमिताभ दास खुश हैं और डीजीपी का आभार जताया है.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.