By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

उत्तर प्रदेश : मरकज में भाग लेने वाले लगभग एक दर्जन जमाती कुशीनगर में मिले

;

- sponsored -

दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में भाग लेने वाले तब्लीगी जमात के लोग देश भर के लिए सबसे बड़ा खतरा बन गए हैं. देश में कोरोना वायरस का सबसे बड़ा कैरियर वो बन गए हैं. ये लोग भारत के हर कोने में जाकर छिपे हैं जिनकी तलाश पुलिस करने में जुटी है.

-sponsored-

-sponsored-

उत्तर प्रदेश : मरकज में भाग लेने वाले लगभग एक दर्जन जमाती कुशीनगर में मिले

सिटी पोस्ट लाइव : दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में भाग लेने वाले तब्लीगी जमात के लोग देश भर के लिए सबसे बड़ा खतरा बन गए हैं. देश में कोरोना वायरस का सबसे बड़ा कैरियर वो बन गए हैं. ये लोग भारत के हर कोने में जाकर छिपे हैं जिनकी तलाश पुलिस करने में जुटी है. हालांकि अबतक कई लोग पकडे भी जा चुके हैं लेकिन अब भी कई लोग छिपे हुए हैं. इस बीच अब एक बड़ी खबर सामने आई है, बताया जा रहा है कि उत्तरप्रदेश के कुशीनगर जिले में लगभग एक दर्जन लोग पकडे गए हैं जो जमात में शामिल हुए थे. ये सभी एक गांव के खेत में छिपे हुए थे.

बताया जा रहा है कि ये सभी जमाती गन्ने की खेत में छुपे हुए थे. जिसकी जानकारी ग्रामीणों ने पुलिस को दी. पुलिस ने भी कार्रवाई करते हुए इन जमातियों को गिरफ्तार कर लिया. कहा जा रहा है कि ये सभी जमाती मौका देख नेपाल भागने की फ़िराक में थे, लेकिन ग्रामीणों ने इनकी सुचना पुलिस को दे दी.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

फिलहाल इन सभीमातियों को रामकोला के पास बने क्वारंटाइन सेंटर में शिफ्ट कर दिया गया. मिली जानकारी के मुताबिक सेन्टर में पहुंचने के साथ ही जमातियों की स्क्रीनिंग की गई. हालांकि स्क्रीनिंग में कोई गंभीर बात सामने नहीं आई है, लेकिन प्रशासन ने उन्हें 14 दिनों तक क्वारंटाइन सेंटर में रखने का निर्देश जारी किया है. पूछताछ में पता चला कि ये लोग नेपाल के सिरहा जिले के रहने वाले हैं जो फरवरी में कुशीनगर आये थे. 

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.