By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

भारत ने अपने शहीद सपूतों का लिया बदला, लगभग 300 आतंकियों का सफाया

;

- sponsored -

भारत ने अपने  चिर-प्रतिद्वंदी पाकिस्तान से आखिरकार पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों का हिसाब चुकता कर ही लिया. भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ एयर स्ट्राइक को अंजाम दिया है. यानि वायुसेना ने पाकिस्तान के आतंकी ठिकानों पर बम बरसाये हैं और उन ठिकानों को पूरी तरह नेस्तानाबूद कर दिया है जिसे आतंकियों ने अपना अड्डा बना रखा था .

-sponsored-

-sponsored-

भारत ने अपने शहीद सपूतों का लिया बदला, लगभग 300 आतंकियों का सफाया

सिटी पोस्ट लाइव : भारत ने अपने  चिर-प्रतिद्वंदी पाकिस्तान से आखिरकार पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों का हिसाब चुकता कर ही लिया. भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ एयर स्ट्राइक को अंजाम दिया है. यानि वायुसेना ने पाकिस्तान के आतंकी ठिकानों पर बम बरसाये हैं और उन ठिकानों को पूरी तरह नेस्तानाबूद कर दिया है जिसे आतंकियों ने अपना अड्डा बना रखा था . पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद से भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में तनाव बना हुआ है. भारत में लगातार इस हमले का मुंहतोड़ जवाब देने की मांग उठ रही थी.

इसी बीच आज सुबह भारतीय वायुसेना ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) पारकर आतंकी कैंप को ध्वस्त कर दिया है . सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि वायुसेना के विमान ने आतंकी कैंप पर एक हजार किलोग्राम के बम गिराए . जिसमें आतंकी कैंप पूरी तरह से ध्वस्त हो गया. 26 फरवरी की रात करीब 3:30 बजे वायुसेना के 12 मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने आतंकियों के बेस कैंप पर हमला किया और उसे पूरी तरह तबाह कर दिया.  आतंकी कैंप पर 1000 किलो बम गिराए गए .इस अभियान में 12 मिराज विमानों ने हिस्सा लिया. इस हमले में जैश का कंट्रोल रूम पूरी तरह से तबाह हो गया और उसके करीब करीब 200-300 आतंकियों और पाकिस्तानी सेना के पांच जवानों की मौत हो गई .

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

इससे पहले पाकिस्‍तानी सेना ने आरोप लगाया गया था कि भारतीय वायुसेना ने नियंत्रण रेखा का उल्‍लंघन किया है . पाकिस्तानी सेना के डीजी आईएसपीआर आसिफ गफूर ने आरोप लगाया था कि भारतीय वायुसेना का विमान एलओसी पार करके पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में घुस आया था . जिसका पाकिस्तानी सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया और वायुसेना को वापस लौटना पड़ा. अपने पहले ट्वीट में गफूर ने लिखा था, भारतीय वायुसेना ने एलओसी का उल्लंघन किया . पाकिस्तानी वायुसेना ने तुरंत उसका जवाब दिया. भारतीय विमान वापस लौटे . इसके बाद अपने दूसरे ट्वीट में गफूर ने लिखा, भारतीय विमानों ने मुजफ्फराबाद इलाके से घुसपैठ की.  पाकिस्तानी वायुसेना ने समय पर और प्रभावी कार्रवाई की जिसके कारण भारतीय वायुसेना वापस लौट गई . किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ और न ही कोई हताहत हुआ .

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्मघाती आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे. इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान से संचालित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी. इस हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि इस हमले का करारा जवाब दिया जाएगा. इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि भारत ने इस हमले का बदला लेने के लिए अपने सुरक्षाबलों को खुली छूट दे दी है. पीएमओ से जुड़े सूत्रों ने बताया एनएसए अजित डोभाल ने पीएम मोदी को जैश के टेरर कैंप पर इस एयरस्ट्राइक का ब्योरा दिया .यह भारतीय थल सेना और एयरफोर्स का वेल कॉर्डिनेटेड हमला था. खुफिया एजेंसियों से मिले इनपुट एयरफोर्स से शेयर किये गए थे, जिसके बाद इस पिन पॉइंट ऑपरेशन को अंजाम दिया गया. यह ऑपरेशन बेहद गुप्त रखा गया था.

रक्षा विशेषज्ञ पीके सहगल का कहना है कि इस हमले में करीब 200-300 आतंकियों और पाकिस्तानी सेना के पांच जवानों की मौत हो गई. यह बहुत ही बड़ी और सफल कार्यवाई है. ये कार्यवाई सर्जिकल स्ट्राइक से भी बड़ी है. हमने अपने राइट टू सेल्फ डिफेंस का इस्तेमाल किया अब देखना होगा कि पाकिस्तान क्या करेगा. सूत्रों के मुताबिक एनएसए अजीत डोभाल ने इस एयर स्ट्राइक के बारे में पीएम नरेंद्र मोदी को जानकारी दी है. इस हमले के बाद भारतीय वायुसेना हाई अलर्ट पर है. सीमा पर सटे स्थानीय लोगों ने भी बताया है कि सोमवार रात से ही सीमा पर लड़ाकू विमानों की आवाजें आ रही थीं .

वहीं इस कारवाई से खउष भारतीय नेताओं कि भी प्रतिक्रिया सामने आने लगी हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है – ‘मैं भारतीय वायुसेना के पायलट्स को सैल्यूट करता हूं.’ वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ट्वीट किया- ‘IAF मतलब भारत के शानदार फाइटर्स (India’s Amazing Fighters) भी है.’. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एयर स्‍ट्राइक पर भारतीय वायु सेना की बहादुरी को सलाम किया.

वहीं कांग्रेस नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने भी ट्वीट करते हुए लिखा, ‘ हमारी जंग पाकिस्‍तान से है जो अपनी जमीन का इस्‍तेमाल भारत में आतंक फैलाने के लिए करता है. आतंकी अड्डों पर भारतीय वायुसेना की इस निर्णायक स्‍ट्राइक से सेना ने यह संदेश दिया है कि जो भारत या भारतीय हितों को नुकसान पहुंचाएगा वह खत्‍म हो जाएगा. यह स्‍ट्राइक बहुत साफ है कि इसमें कोई स्‍थानीय नागरिक नहीं मारा गया.’ वहीं शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने कहा, ‘घर में घुस के मारा है हमने. बहुत गर्व महसूस कर रहा हूँ अपनी सेना पर. पीएम मोदी ने 56 इंच का सीना दिखा दिया. पूरा क्रेडिट पीएम को क्योंकि वह कप्तान हैं देश के. पाकिस्तान जब तक घुटने पर चल कर न आये तब तक कार्रवाई जारी रखी जाए.

जेपी चंद्रा की रिपोर्ट

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.