By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

मजदूरों के पलायन पर ब्रेक लगाने के लिए ग्रेटर नोएडा में बनाया जा रहा शेल्टर होम

;

- sponsored -

यूपी के ग्रेटर नोएडा में स्थित जेपीएसआई स्पोर्ट्स सिटी, यमुना एक्सप्रेस वे के फ्लैट्स को गौतमबुद्ध नगर में कार्य करने वाले उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों से आए या किसी दूसरे प्रदेश से आए मजदूरों के लिए शेल्टर होम की तरह प्रयोग किया जाएगा।

-sponsored-

-sponsored-

मजदूरों के पलायन पर ब्रेक लगाने के लिए ग्रेटर नोएडा में बनेगा शेल्टर होम

सिटी पोस्ट लाइव : यूपी के ग्रेटर नोएडा में स्थित जेपीएसआई स्पोर्ट्स सिटी, यमुना एक्सप्रेस वे के फ्लैट्स को गौतमबुद्ध नगर में कार्य करने वाले उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों से आए या किसी दूसरे प्रदेश से आए मजदूरों के लिए शेल्टर होम की तरह प्रयोग किया जाएगा। बता दें कि मजदूरों के पलायन को रोकने के गौतमबुद्ध नगर के डीएम बीएन सिंह ने 29 मार्च को जेपीएसआई स्पोर्ट्स सिटी, यमुना एक्सप्रेस को टेक ओवर करने का आदेश दिया।

दरअसल कोरोना वायरस (Coronavirus) की महामारी की रोकथाम के लिए सारे हिंदुस्तान में 25 मार्च से 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है। इसके बाद 27 मार्च से दिल्ली व इसके आसपास एनसीआर के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश व दूसरे राज्यों से आकर कार्य करने वाले मजदूरों ने बड़ी संख्या में पलायन प्रारम्भ कर दिया था। इसके बाद पंजाब व हरियाणा से भी ऐसी ही खबरें आने लगीं थीं। गौतमबुद्ध नगर के डीएम ने जिले में कार्य करने वाले मजदूरों का पलायन रोकने के लिए ऐसा आदेश दिया है।

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

गौरतलब है कि गौतमबुद्ध नगर के डीएम के आदेश के मुताबिक मेहनतकश अब जे। पी। एस। आई। स्पोर्ट्स सिटी के फ्लैट्स में रहेंगे। यहां इन लोगों के लिए खाने-पीने की व्यवस्था भी की जाएगी। इसके अतिरिक्त मजदूरों के लिए बाथरूम, शौचालय व लेटने के लिए गद्दों की सुविधा भी की जाएगी। बता दें कि हिंदुस्तान में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 1024 हो गया है व अब तक 27 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। जबकि 95 लोगों का पास उपचार हुआ है।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.