By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

10 अगस्त तक आ जाएगी दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन, जानिए किसने बनाया?

;

- sponsored -

कोरोना महामारी के संक्रमण से दुनिया भर में कोहराम मचा हुआ है. भारत में भी बढ़ते कोरोना के संक्रमण से कोहराम मचा हुआ है. भारत के कई राज्यों में यह बेलगाम हो चुका है. अस्पतालों में जगह नहीं है .लेकिन कोरोना के संक्रमण से जूझ रहे लोगों के लिए  अब कोरोना वैक्सीन से जुडी एक इच्छी खबर आई है.10 अगस्त तक कोरोना वायरस की पहली वैक्सीन बाज़ार में आ जायेगी.

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : कोरोना महामारी के संक्रमण से दुनिया भर में कोहराम मचा हुआ है. भारत में भी बढ़ते कोरोना के संक्रमण से कोहराम मचा हुआ है. भारत के कई राज्यों में यह बेलगाम हो चुका है. अस्पतालों में जगह नहीं है .लेकिन कोरोना के संक्रमण से जूझ रहे लोगों के लिए  अब कोरोना वैक्सीन से जुडी एक इच्छी खबर आई है.10 अगस्त तक कोरोना वायरस की पहली वैक्सीन बाज़ार में आ जायेगी. रूसी अधिकारियों और वैज्ञानिकों के अनुसार वैक्सीन को 10 अगस्त तक या फिर उससे भी पहले मंजूरी मिल जायेगी. इस वैक्सीन को मॉस्को स्थित गामालेया इंस्टीट्यूट में बनाया गया है.

रूस के गामालेया इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों का दावा है कि वे इस वैक्सीन को आम जनता के उपयोग के लिए 10 अगस्त तक मंजूरी दिलवा लेंगे. लेकिन ये सबसे पहले फ्रंटलाइन हेल्थवर्कर्स को दी जाएगी. रूस के सोवरन वेल्थ फंड के प्रमुख किरिल मित्रिव ने कहा कि यह ऐतिहासिक मौका है. जैसे हमने अंतरिक्ष में पहला सैटेलाइट स्पुतनिक छोड़ा था, वैसा ही मौका है. अमेरिका के लोग सुनकर हैरान रह गए थे स्पुतनिक के बारे में, वैसे ही इस वैक्सीन के लॉन्च होने से पूरी दुनिया हैरान रह जायेगी.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.