By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

अब्दुल बारी सिद्धकी ने दी तेजस्वी को नसीहत-‘बड़े नेताओं की मंशा पर सवाल मत उठाईए, ईगो छोड़ना होगा’

Above Post Content

- sponsored -

आरजेडी के कद्दावर नेता अब्दुल बारी सिद्धकी ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया है। लिखा गया है कि-‘आगामी विधानसभा चुनावों में बीजेपी को  हराने के लिए तमाम समाजवादियों को ईगो छोड़ना होगा। रघुवंश बाबू और हमारे जैसे नेताओं की मंशा पर सवाल नहीं होना चाहिए। फिलहाल तो अभी महागठबंधन जारी है। इसके अलावे जो लोग भी बीजेपी से परेशान हैं, उनको पहल करनी चाहिए।

Below Featured Image

-sponsored-

अब्दुल बारी सिद्धकी ने दी तेजस्वी को नसीहत-‘बड़े नेताओं की मंशा पर सवाल मत उठाईए, ईगो छोड़ना होगा’

सिटी पोस्ट लाइवः आरजेडी के कद्दावर नेता अब्दुल बारी सिद्धकी ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया है। लिखा गया है कि-‘आगामी विधानसभा चुनावों में बीजेपी को  हराने के लिए तमाम समाजवादियों को ईगो छोड़ना होगा। रघुवंश बाबू और हमारे जैसे नेताओं की मंशा पर सवाल नहीं होना चाहिए। फिलहाल तो अभी महागठबंधन जारी है। इसके अलावे जो लोग भी बीजेपी से परेशान हैं, उनको पहल करनी चाहिए।

माना जा रहा है कि अब्दुल बारी सिद्धकी ने अपने इस पोस्ट के जरिए तेजस्वी यादव को नसीहत दी है। दरअसल आरजेडी के बड़े नेता यह चाहते हैं कि नीतीश कुमार को महागठबंधन के पाले में लाया जाए ताकि 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए और बीजेपी के खिलाफ लड़ाई आसान हो सके। आरजेडी 2015 को दुहराना चाहती है जब मोदी लहर के बावजूद नीतीश के नेतृत्व वाले महागठबंधन ने बिहार में बीजेपी का जीत वाला अश्वमेघ रोक दिया था। दो दिन पहले रघुवंश प्रसाद सिंह ने यह कहा था कि नीतीश कुमार को बीजेपी फिनिश करना चाहती है इसलिए मुझे भरोसा है कि वे महागठबंधन में आंएगे। उनसे बातचीत शुरू होनी चाहिए।

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

तेजस्वी यादव ने इस बयान के विपरीत यह कहा कि नीतीश कुमार महागठबंधन को छोड़कर गये थे इसलिए उनके महागठबध्ंान में आने का सवाल हीं नहीं उठता। माना जा रहा है कि  अब्दुल बारी सिद्धकी ने अपने पोस्ट के जरिए तेजस्वी यादव को नसीहत दी है कि सियासत इगो से नहीं बल्कि स्थिति और परिस्थति को भांपकर किया जाता है और नीतीश कुमार को महागठबध्ंान में लाने की कोशिश सबसे सबसे कारगर रणनीति है।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.