By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

ईवीएम पर बोले गिरिराज-‘ हार स्वीकार करें हारे हुए लोग, मीठा गबगब तीखा थू थू नहीं चलेगा’

Above Post Content

- sponsored -

बीजेपी के फायर ब्रांड नेता गिरिराज सिंह ने ईवीएम पर विपक्षी दलों द्वारा उठाये जा रहे सवाल पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। गिरिराज सिंह ने कहा है कि विपक्ष हताशा में है। कोई हथियार दिखा रहा है। कोई खूनी क्रांति की बात कर रहा है। जब मध्य प्रदेश राजस्थान छत्तीसगढ़ में जीत हुई तो विपक्ष ने क्यों नहीं कहा कि ईवीएम खराब है।

Below Featured Image

-sponsored-

ईवीएम पर बोले गिरिराज-‘ हार स्वीकार करें हारे हुए लोग, मीठा गबगब तीखा थू थू नहीं चलेगा’

सिटी पोस्ट लाइवः बीजेपी के फायर ब्रांड नेता गिरिराज सिंह ने ईवीएम पर विपक्षी दलों द्वारा उठाये जा रहे सवाल पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। गिरिराज सिंह ने कहा है कि विपक्ष हताशा में है। कोई हथियार दिखा रहा है। कोई खूनी क्रांति की बात कर रहा है। जब मध्य प्रदेश राजस्थान छत्तीसगढ़ में जीत हुई तो विपक्ष ने क्यों नहीं कहा कि ईवीएम खराब है। मैं इस जीत को स्वीकार नहीं करूंगा। मीठा मीठा गबगब तीखा तीखा थू थू नहीं चलेगा।

बीजेपी नेता ने कहा कि विपक्षी नेताओं को अपना चेहरा छुपाने के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए। देश की जनता से याचना और प्रायश्चित करना चाहिए। जो लोग हथियार दिखा रहे हैं और खूनी क्रांति का नारा दे रहे हैं उन्हें यह मालूम होना चाहिए कि लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं है। चाहे हथियार के जरिए या चाहे शब्दों के जरिए हिंसा फैलाया जाए ये गुनाह है। लोकतंत्र में मान्य नहीं है। हारे हुए लोगों को हार स्वीकार करना चाहिए। बेगूसराय में अपनी जीत को लेकर आश्वस्त गिरिराज सिंह ने कहा कि मैं बेगूसराय जीत रहा हूं। बेगूसराय की जनता की जीत जरूर होगी।

Also Read
Inside Post 3rd Paragraph

-sponsored-

आपको बता दें कि ईवीएम को लेकर विपक्षी पार्टियां एक बार फिर एक्टिव हो गयी है। आज पटना में एक पूर्व विधायक ने हथियार लहरा दिया तो इससे पहले रालोसपा अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने कल महागठबंधन की साझा प्रेस कान्फ्रेंस में कहा कि ईवीएम के जरिए अगर चुनाव प्रभावित करने की कोशिश होगी तो खून खराबा होगा। मेरे कार्यकर्ता हथियार उठाने से भी पीछे नहीं हटेंगे। उपेन्द्र कुशवाहा के इस बयान पर खूब बवाल है।

Below Post Content Slide 4

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.