By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

माया पर बोले अखिलेश-‘राजनीतिक मजबूरियों की वजह से नहीं घटेगा मायावती का सम्मान’

- sponsored -

लोकसभा चुनाव खत्म होने के बाद यूपी में सपा और बसपा की दोस्ती दरक गयी है। गठबंधन टूट गया है। दोनों दलों की ओर से बयान भी सामने आये हैं जिसने तल्खी को जाहिर किया है लेकिन सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने आज बसपा सुप्रीमो मायावती को लेकर बड़ा बयान दिया है।

-sponsored-

माया पर बोले अखिलेश-‘राजनीतिक मजबूरियों की वजह से नहीं घटेगा मायावती का सम्मान’

सिटी पोस्ट लाइवः लोकसभा चुनाव खत्म होने के बाद यूपी में सपा और बसपा की दोस्ती दरक गयी है। गठबंधन टूट गया है। दोनों दलों की ओर से बयान भी सामने आये हैं जिसने तल्खी को जाहिर किया है लेकिन सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने आज बसपा सुप्रीमो मायावती को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि राजनीतिक मजबूरियों की वजह से भले हीं अलग चुनाव लड़ने का फैसला लेना पड़ा हो लेकिन मायावती का सम्मान कम नहीं होगा।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज सपा-बसपा गठबंधन के बारे में कहा कि ऐसा जरूरी नहीं है कि आप हर परीक्षण में सफल हों, लेकिन इससे आपको अपनी कमजोरियों के बारे में पता चलता है. जहां तक बात मायावती जी कि है तो मैंने अपने पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में ही कहा था कि मेरा सम्मान उनका सम्मान होगा. मैं आज भी अपने इस बयान पर कायम हूं.

Also Read

-sponsored-

उन्होंने कहा कि जहां तक बात गठबंधन की है या फिर अकेले चुनाव लड़ने की है, तो मैं यह कहूंगा कि राजनीति की सड़क सबके लिए खुली है और अपने हितों की रक्षा के लिए राजनीतिक दल अपना रास्ता चुन सकते हैं. अखिलेश यादव ने कहा कि अगर हम अकेले विधानसभा उपचुनाव लड़ रहे हैं तो मैं पार्टी के सभी नेताओं के साथ चर्चा करूंगा कि हमारी भावी रणनीति क्या होनी चाहिए और इसके लिए क्या करना चाहिए? गौरतलब है कि मायावती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा था कि गठबंधन टूटा नहीं हम साथ है, लेकिन सपा को कुछ बदलाव करने होंगे तब ही हम साथ चुनाव लड़ पायेंगे. मायावती ने कहा था कि हमारी कुछ राजनीतिक मजबूरियां हैं, जिसके कारण हमें अकेले चुनाव लड़ना होगा.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.