By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

वित्तमंत्री सुशील मोदी ने सदन में पेश किया बजट, हंगामे और शेरो-शायरी के बीच पेश हुआ बजट

;

- sponsored -

बिहार विधानमंडल के बजट सत्र के दूसरे दिन आज सदन में वित्तमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज सदन में बजट पेश किया। बजट पेश करने के दौरान विपक्ष ने एक तरफ हंगामा किया तो दूसरी तरफ सुशील मोदी शेरो-शायरी के मूड में थे। शायराना अंदाज में आज उन्होंने आज सदन में बिहार का बजट पेश किया। जानकारी के मुताबिक सदन की कार्यवाही आज शुरू होने से पहले ही विपक्षी पार्टियों का हंगामा शुरू हो चुका था।

-sponsored-

-sponsored-

वित्तमंत्री सुशील मोदी ने सदन में पेश किया बजट, हंगामे और शेरो-शायरी के बीच पेश हुआ बजट

सिटी पोस्ट लाइवः बिहार विधानमंडल के बजट सत्र के दूसरे दिन आज सदन में वित्तमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज सदन में बजट पेश किया। बजट पेश करने के दौरान विपक्ष ने एक तरफ हंगामा किया तो दूसरी तरफ सुशील मोदी शेरो-शायरी के मूड में थे। शायराना अंदाज में आज उन्होंने आज सदन में बिहार का बजट पेश किया। जानकारी के मुताबिक सदन की कार्यवाही आज शुरू होने से पहले ही विपक्षी पार्टियों का हंगामा शुरू हो चुका था। हाथों में तख्तियां और बैनर लेकर बिहार विधानसभा के बाहर वाम दलों का प्रदर्शन कर रहे थे। वाम दल जहां न्यूनतम मजदूरी की मांग को लेकर हंगामा कर रहे थे तो वहीं राजद सदस्य लॉ एंड ऑर्डर को लेकर नारेबाजी कर रहे हैं।

राजद नेता भाई वीरेंद्र ने बजट को गरीब विरोधी बताते हुए कहा है कि बजट की राशि लूटने के लिए बढ़ायी गई है। राज्य में शिक्षा और स्वास्थ्य की स्थिति बदहाल है।राजद विधायक विजय प्रकाश ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार बजट केवल दिखावे के लिए बनाती है, सरकार को जनता से कोई मतलब नहीं है। सरकार जनता को लूटने में लगी है। बजट पेश करते हुए सुशील मोदी ने बताया कि साल 2019-20 में 24 हजार 420 करोड़ रुपए का ऋण देने का प्रावधान रखा गया है. केंद्रीय करों में राज्य की हिस्सेदारी बढ़ने की उम्मीद है.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

उन्होंने कहा कि 2004-2005 के बजट से इसबार का बजट 8 गुणा ज्यादा है। 2019-20 में पूंजीगत व्यव पर 45 हजार 2 सौ 70 हजार करोड़ खर्च होगा। वेतन पंेंशन पर भी सरकार का ध्यान है जिसमें संविदाकर्मी भी शामिल हैं। बिहार को आगे भी इसी तरह से पुरस्कार मिलते रहेंगे और हम विकास करते रहेंगे। बिहार राज्य का 2019-20 का बजट आकार 2 लाख करोड़ है। वित्तमंत्री सुशील मोदी ने बताया कि बिहार को इस साल आर्थिक और सामाजिक सुधार के लिए 11 अलग-अलग पुरस्कार मिले हैं। साल 2016-17 के लिए बिहार को कृषि कर्मण पुरस्कार देने की घोषणा हुई है।

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.