By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

सीटों के चयन में हो रही देर से नाराज हैं चिराग पासवान, फिर दे दिया है अल्टीमेटम

;

- sponsored -

-sponsored-

-sponsored-

सीटों के चयन में हो रही देर से नाराज हैं चिराग पासवान, फिर दे दिया है अल्टीमेटम

सिटी पोस्ट लाइव : NDA के बीच सीटों का बटवारा तो हो गया है. लेकिन कौन किस सीट से चुनाव लडेगा, इसको लेकर अभी भी पेंच फंसा हुआ है. एकबार फिर से एलजेपी के सांसद रामविलास पासवान के पुत्र चिराग पासवान ने BJP को अल्टीमेटम दे दिया है. बिहार एनडीए के महत्वपूर्ण घटक दलों में शामिल एलजेपी सीटों के बंटवारे के बाद अब  सीटों के चयन को लेकर आवाज उठाना शुरू कर दिया है. सांसद चिराग पासवान ने इस मामले का निबटारा जल्द से जल्द करने की मांग BJP से कर दी है.

लोजपा संसदीय दल के नेता चिराग पासवान ने सीटों के चयन नहीं होने का लेकर चिंता जाहिर की है. उन्होंने इशारों में हीं एकबार फिर से एनडीए को  अल्टीमेटम दे दिया है. एलजेपी संसदीय दल के नेता चिराग पासवान ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि घटक दलों के खाते में गई सीटों का चयन जल्द से जल्द हो जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि सीटों के चयन को लेकर देरी नहीं होनी चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि सीटों के चयन के बाद ही उम्मीदवार तय होंगे.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

गौरतलब है कि एलजेपी सुप्रीमो रामविलास पासवान इसबार चुनाव नहीं लड़ेगें. इसबार वो राज्यसभा जाएंगे. गौरतलब र्है कि पिछले माह बिहार एनडीए में सीट शेयरिंग पर फैसला हुआ था. दिल्ली में इइसकी घोषणा खुद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने की थी. मौके पर जदयू सुप्रीमो नीतीश कुमार व लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान के अलावा चिराग पासवान भी मौजूद थे. सीट शेयरिंग में लोजपा के खाते में 6 लोक सभा की सीट और एक राज्य सभा की सीट गई थी.

गौरतलब है कि चिराग पासवान ने पांच राज्यों में BJP के हार के बाद अचानक BJP पर सीटों के बटवारे को लेकर दबाव बना दिया था. उन्होंने BJP के राम मंदिर के मुद्दे से लेकर नोटबंदी को लेकर सवाल खड़े करने शुरू कर दिए थे. चिराग पासवान के सख्त रवैये से बीजेपी घबरा गई थी. उसने वगैर देर किये सीटों का बटवारा कर दिया था. अब एकबार फिर से चिराग पासवान ने सीटों के चयन को लेकर सख्त रवैया अपना लिया है. नोटबंदी और राम मंदिर जैसे मुद्दों को लेकर चिराग पासवान ने जिस तरह से BJP के ऊपर दबाव बनाया था उसे देखकर राजनीति के दिग्गज भी हैरान रह गए थे.

-sponsered-

;

-sponsored-

Comments are closed.