By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

कोरोना लहर थमने के बाद बाहर आकर सिर्फ बयानबाजी कर रहे हैं: कांग्रेस

HTML Code here
;

- sponsored -

झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता डॉ.एम. तौसीफ ने भाजपा पर जोरदार हमला करते हुए कहा है कि भाजपा का राज्य एवं केंद्रीय नेतृत्व कोरोना की लहर में सरकारी बंगलों एवं घरों के तहखाने में छिपा हुआ था।

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव, रांची: झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता डॉ. एम. तौसीफ ने भाजपा पर जोरदार हमला करते हुए कहा है कि भाजपा का राज्य एवं केंद्रीय नेतृत्व कोरोना की लहर में सरकारी बंगलों एवं घरों के तहखाने में छिपा हुआ था। जब राज्य एवं देश की जनता को मदद की जरूरत थी, उस दौरान भारतीय जनता पार्टी का एक भी नेता सड़क एवं हॉस्पिटल में जरूरतमंदों की मदद करते हुए नजर नहीं आ रहा था । उन्होंने कहा कि कोरोना की लहर के समय कांग्रेस के नेता एवं कार्यकर्ता  जरूरतमंदों को स्वास्थ्य सुविधा से लेकर उनके भोजन तक की व्यवस्था कराने में जुटे हुए थे।

 

तौसीफ ने कहा कि अभी जब कोरोना की लहर थोड़ी थमी है तो भारतीय जनता पार्टी के लोग तहखाने से बाहर निकलकर बयान बाजी कर सुर्खियों में आने की होड़ में लगे हुए हैं। प्रदेश प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि भाजपा नेतृत्व ने कोरोना जैसी महामारी को कभी भी गंभीरता से नहीं लिया यही वजह है कि जब पूरी दुनिया कोरोना जैसी महामारी से सतर्क हो रही थी उस वक्त हमारे देश के प्रधानमंत्री गुजरात में हजारों इंटरनेशनल डेलीगेट्स के साथ लाखों की तादाद में नमस्ते ट्रंप कार्यक्रम करा रहे थे।

 

डॉक्टर तौसीफ ने कहा कि भाजपा के नेताओं का कोई नैतिक हक नहीं है कि राज्य सरकार से कोरोना जैसी गंभीर समस्याओं पर चर्चा करे।भाजपा के राज्य के नेताओं को अगर जरा भी चिंता होती तो कोरोना काल की दूसरी लहर में जब झारखंड सरकार ने ऑक्सीजन सिलेंडर एवं स्वास्थ्य उपकरणों को खरीदने के लिए गुजरात स्थित कंपनियों को आर्डर दिया गया था।साथ ही कंपनी और गुजरात के मुख्यमंत्री से अनुरोध किया गया था कि जल्द से जल्द ऑक्सीजन सिलेंडर दिया जाए, उस समय भाजपा का नेतृत्व कहां सोया हुआ थास उन्होंने कहा कि झारखंड से भाजपा के केंद्र में मंत्री भी हैं और कई सांसद भी हैं।

 

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

इन लोगों ने गुजरात सरकार को क्यों नहीं कहा कि झारखंड सरकार के ऑर्डर को जितना जल्द हो सके उपलब्ध कराया जाए। तब तो भाजपा वाले बैठकर तमाशबीन की तरह तमाशा देख रहे थे,चाह रहे थे कि कोरोना महामारी से राज्य में तबाही मचे और उसके बाद सरकार के ऊपर आरोप लगा कर अपने कुकृत्यों से ध्यान भटकाने का काम करें लेकिन भाजपा के मंसूबों पर पानी फिर गया और राज्य सरकार ने बखूबी कोरोना की दूसरी लहर से निपटने का काम किया। यही वजह है कि दूसरे राज्य के लोगों ने भी झारखंड सरकार की तारीफ कीस

 

डॉ. तौसीफ ने कहा कि देश में अगर कोरोना की तीसरी लहर आती है तो उस की जिम्मेदार केंद्र सरकार होगी क्योंकि केंद्र सरकार वैक्सीन के आंकड़ों का खेल कर रही है जो वादा किया था कि राज्यों को वैक्सीन मुहैया कराया जाएगा।  उसमें लगातार फेल होती दिख रही है।वैक्सीनेशन सेंटर पर सैकड़ों की तादाद में लोग वैक्सीन के इंतजार में खड़े होकर बिना टीका लिए हुए वापस  चले जा रहे हैं अगर वैक्सीनेशन जल्द से जल्द नहीं होता है तो तीसरी लहर को न्योता देने जैसा होगा और इसकी पूरी जिम्मेदारी  भाजपा एवं केंद्र सरकार की होगी।

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.